• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Complimenting Rahul and criticizing Modi, Shiv sena said It is not right to remember Emergency repeatedly

दैनिक भास्कर हिंदी: राहुल की तारीफ और मोदी की आलोचना, शिवसेना ने कहा- बार-बार इमरजेंसी को याद करना ठीक नहीं, अब मुद्दे को दफना दो

March 7th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कांग्रेस के साथ मिलकर राज्य में सरकार चला रही शिवसेना अब आपातकाल यानी इमरजेंसी को याद नहीं करना चाहती। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि 1975 का आपातकाल एक पुराना मुद्दा है, जिसे हमेशा के लिए दफना देना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में मौजूदा स्थिति ऐसी है कि कोई भी कह सकता है कि आपातकाल का दौर इससे बेहतर था। पार्टी के मुखपत्र प्रकाशित अपने साप्ताहिक कॉलम में राऊत ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा अपनी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपातकाल पर खेद व्यक्त करने के कदम पर सवाल उठाया।    

उन्होंने कहा-भारत के लोगों ने इंदिरा गांधी को आपातकाल लगाने के फैसले के लिए दंडित किया। उन्होंने उन्हें सबक सिखाया, लेकिन बाद में उन्हें वापस सत्ता में लाकर माफ कर दिया। आपातकाल एक पुराना मुद्दा है। इसकी चर्चा बार-बार क्यों की जाए? इस मुद्दे को स्थायी रूप से दफना देना चाहिए। राउत ने राहुल गांधी को एक स्पष्ट और सरल व्यक्ति बताया। "उनकी टिप्पणियों से एक बार फिर इस मुद्दे पर बहस शुरू हो गई। 1975 का आपातकाल असाधारण परिस्थितियों में लगाया गया था। राजनीति और मीडिया की वर्तमान पीढ़ी को अतीत को लेकर कोई आभास नहीं है और न ही वे प्रभावित हुए थे। देश में मौजूदा स्थिति ऐसी है कि कोई भी कह सकता है कि 1975 का आपातकाल इससे बेहतर था। राऊत ने कहा कि हाल ही में आयकर विभाग ने फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, अभिनेत्री तापसी पन्नू के घर पर छापे मारे, जब उन्होंने सरकार की नीतियों के खिलाफ बोला।    


 

खबरें और भी हैं...