दैनिक भास्कर हिंदी: गरबा के दौरान पार्किंग को लेकर बढ़ा विवाद, दो गुट आपस में भिड़े, 7 घायल

October 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नवरात्र के उपलक्ष्य में आयोजित गरबा में दो युवकों में हुए मामूली विवाद के बाद एक युवक ने साथियों की मदद से गरबा आयोजकों पर हमला बोल दिया। इस हमले में सात युवक घायल हो गए। इससे अफरा-तफरी मच गई। अजनी थाने में आरोपी और उसके साथियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। देर रात तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।  

ऐसे बढ़ी बात और फिर देखते-देखते घात

भगवान नगर में नवरात्र उत्सव में गरबा और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। शनिवार की रात को भी गरबा का आयोजन किया गया था। गरबा देखने के लिए परिसर के लोग बड़ी संख्या में मौजूद थे। गरबा स्थल पर पार्किंग व्यवस्था वहीं बगल में की गई थी। पार्किंग स्थल पर किसी बात को लेकर मैक्स मानकर, सी.एम.लोंढे, सावन मानकर और उनके अन्य दो-तीन साथी आपस में विवाद कर रहे थे। विवाद होने पर पार्किंग व्यवस्था संभाल रहे गौरव राजू वर्मा (28), रामेश्वरी निवासी ने अपने मित्र की मदद  से मध्यस्थता कर मामले को सुलझाने का प्रयास किया, लेकिन मामला और उलझ गया। कुछ देर बाद मैक्स मानकर ने फोन कर अपने साथियों को बुला लिया। इसके बाद गौरव वर्मा और उसके िमत्र सुमित वर्मा, अतुल वर्मा, अनिकेत तायड़े, अनिकेत कडू, रवि डेहरिया, पवन पांडे और नयन मेटकर पर लाठी-काठी से हमला बोल दिया। इस हमले में यह लोग घायल हो गए। हमले के कारण गरबा स्थल पर कुछ समय के लिए अफरा-तफरी और तनाव का माहौल बना रहा। इस बीच किसी ने नियंत्रण कक्ष को सूचना दे दी। सूचना मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक हमलावर भाग चुके थे। गौरव की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। जांच जारी  है। 

रंजिश में अपहरण कर विद्यार्थी की पिटाई, धमकी देकर छोड़ा

रंजिश में शस्त्र की नोक पर तीन आरोपियों ने एक विद्यार्थी का अपहरण कर लिया। विद्यार्थी की पिटाई की गई और जान से मारने की धमकी देकर उसे छोड़ दिया गया। देर रात आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार नरसाला स्थित इंद्रनगर निवासी साहिल गिरधेश्वर दहीकर (19) नामक युवक अध्ययनरत है। करीब 6 महीने पहले साहिल का मित्र अनिमेश का किसी बात को लेकर आरोपी फैजान बड़ा ताजबाग निवासी से विवाद हुआ था। अनिमेश के साथ हुए विवाद का बदला लेने के लिए ही शनिवार की रात 9.30 बजे फैजान ने अपने साथी मोनू और गौरव टाले की मदद से शस्त्र की नोक पर साहिल का अपहरण किया। मोटरसाइकिल पर जबरन बैठाकर उसे सूनसान स्थान पर ले जाया गया था। इस बीच उसकी पिटाई की गई और जान से मारने की धमकी देकर उसे छोड़ दिया गया। इसके बाद मामला थाने पहुंचा। फैजान और उसके साथी अापराधिक प्रवृत्ति के बताए गए हैं। प्रकरण दर्ज किया गया है, लेकिन घटना के बाद से आरोपी फरार हैं। उनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है। जांच जारी है। 
 

खबरें और भी हैं...