दैनिक भास्कर हिंदी: CAA-NRC के खिलाफ राजघाट पर कांग्रेस देगी धरना, राहुल-सोनिया होंगे शामिल

December 21st, 2019

हाईलाइट

  • 23 दिसंबर को दोपहर 2 से रात 8 बजे तक धरने पर कांग्रेस
  • राजघाट पर CAA और NRC का करेगी विरोध
  • हिंसक प्रदर्शन में कई लोग गंवा चुके हैं जान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नेश्नल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (NRC) के खिलाफ मचे कोहराम में अब तक कई लोगों ने अपनी जान गंवा दी हैं। इसी बीच कांग्रेस भी CAA और NRC के खिलाफ दिल्ली के राजघाट पर 23 दिसंबर को धरना प्रदर्शन करेगी। पहले इस धरने का आयोजन रविवार को किया जाना था, जो स्थगित कर दिया गया। इसमें पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहेंगे। यह धरना प्रदर्शन दोपहर 2 से रात 8 बजे तक आयोजित किया जाएगा।

 

 

इससे पहले भी राहुल और सोनिया दोनों ही CAA और NRC के खिलाफ अपनी राय रख चुके हैं। बता दें कि CAA के खिलाफ देशभर में हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। पुलिसकर्मियों पर पथराव किया जा रहा है। इस हिंसा को रोकने और कम करने के लिए कई इलाकों में इंटरनेट और टेलीफोनिक सेवाएं बंद की जा रही हैं, जिससे इस एक्ट को लेकर अफवाहें न फैलाई जा सकें और न ही दुष्प्रचार किया जा सके। इसके अलावा मध्यप्रदेश, असम, उत्तर प्रदेश जैसे कई राज्यों में धारा 144 लागू की गई है।

क्या है CAA?

CAA वह अधिनियम है, जो पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश जैसे इस्लामिक देशों से भगाए गए गैर मुसलमानों को पनाह देगा। अधिनियम के मुताबिक 31 दिसंबर 2014 को या उससे पहले जिन भी हिंदुओं, सिखों, जैनों, पारसियों, बौद्धों और ईसाईयों ने पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक उत्पीड़न के कारण भारत की पनाह ली हैं, उन्हें भारत की नागरिकता प्रदान करने की कोशिश की जाएगी।