उठाए थे सवाल : ओवैसी के बयान पर टिप्पणी करने से बचते नजर आए उपमुख्यमंत्री 

February 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। सिंचाई घोटाले में गिरफ्तारी न होने को लेकर एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर उपमुख्यमंत्री अजित पवार रविवार को टिप्पणी करने से बचते नजर आए। रायगड में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं करनी है। लेकिन किसी के भी खिलाफ नियमों के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। बदले की राजनीति के तहत कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। वहीं प्रदेश राकांपा के मुख्य प्रवक्ता महेश तपासे ने कहा कि प्रदेश के अल्पसंख्यक विकास मंत्री नवाब मलिक का पक्ष रखने के लिए हमारी पार्टी सक्षम है। ओवैसी को मलिक की चिंता करने की जरूरत नहीं है। तपासे ने कहा कि ओवैसी ने उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव प्रचार में मलिक के प्रति सहानुभूति दिखाई है। लेकिन हम सभी को पता था कि इसके पीछे उनका क्या उद्देश्य था। इसके पहले शनिवार को उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार के दौरान ओवैसी ने कहा था कि महाराष्ट्र में राकांपा के नेता तथा अल्पसंख्यक विकास मंत्री नवाब मलिक जेल में हैं। जबकि राकांपा के वरिष्ठ नेता तथा उपमुख्यमंत्री अजित के खिलाफ सिंचाई घोटाले का आरोप है। लेकिन उपमुख्यमंत्री की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हुई है। उल्लेखनीय है कि राज्य में साल 2014 के दौरान कांग्रेस और राकांपा की आघाड़ी सरकार के समय भाजपा ने अजित के खिलाफ सिंचाई घोटाले के गंभीर आरोप लगाए थे। उस समय भी अजित उपमुख्यमंत्री थे।