परियोजना का प्रारुप: एक माह में तैयार हो जाएगा मुंबई-नागपुर बुलेट ट्रेन का डीपीआर

February 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र की दूसरी प्रस्तावित मुंबई-नागपुर बुलेट ट्रेन परियोजना का प्रारुप एक माह के भीतर तैयार हो जाएगा। केंद्रीय रेल राज्यमंत्री राव साहेब दानवे के मुताबिक मुंबई से नाशिक होकर नागपुर जाने वाली बुलेट ट्रेन का विस्तृत परियोजना प्रारुप (डीपीआर) तैयार करने का कार्य अंतिम चरण में है। मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का कार्य चल रहा है। मुंबई-नागपुर राज्य की दूसरी बुलेट ट्रेन होगी। यह बुलेट ट्रेन ठाणे, नाशिक, अहमदनगर, औरंदाबाद, जालना, बुलढाणा, अमरावती व वर्धा से गुजरते हुए उप राजधानी नागपुर पहुंचेगी। बुलेट ट्रेन का मार्ग मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग के समानांतर होगा। मुंबई-नागपुर 736 किलोमीटर लंबी बुलेट ट्रेन पटरी बिछाने के लिए एरियल सर्वे सहित इसका पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव का अध्ययन किया जा रहा है। रेल राज्यमंत्री ने बताया कि फिलहाल मुंबई-नागपुर बुलेट ट्रेन परियोजना को अभी मंजूरी नहीं मिली है। इसका डीपीआर तैयार होने के बाद आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। 

मुंबई-नागपुर के बीच होंगे 12 स्टेशन

मुंबई-नागपुर बुलेट ट्रेन परियोजना में दोनों शहरों के बीच 12 स्टेशन होंगे। इनमें शाहपुर, इगतपुती, नासिक, शिरडी, औरंगाबाद, जालना, महकर, मालेगांव जहांगीर, करंजा लाड, पुलगांव, वर्धा और नागपुर शामिल है। इस बुलेट ट्रेन की अधिकतम स्पीड 350 किलोमीटर प्रतिघंटे होगी। यानि मुंबई से नागपुर की यात्रा चार से पांच घंटे में पूरी की जा सकेगी। सूत्रों के अनुसार इस बुलेट ट्रेन का किराया ट्रेन के मौजूदा एसी फर्स्ट क्लास से डेढ़ गुना अधिक होने का अनुमान है। फिलहाल मुंबई से नागपुर के लिए फर्स्ट क्लास ट्रेन टिकट का किराया करीब 2900 रुपए है।