दैनिक भास्कर हिंदी: मनपा कर्मचारियों को 7 वां वेतनमान देने का आदेश

February 27th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  मनपा कर्मचारी-शिक्षकों में सातवां वेतन आयोग लागू होने को लेकर कुछ उम्मीदें जगी है। नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने नागपुर मनपा के शिक्षक व अन्य कर्मचारियों को त्वरित सातवां वेतन आयोग लागू करने के निर्देश विभाग के प्रधानसचिव को दिए हैं। कांग्रेस विधायक विकास ठाकरे ने इस संबंध में नगरविकास मंत्री शिंदे को निवेदन देकर सातवां वेतन आयोग लागू करने में हो रहे विलंब की ओर ध्यान आकर्षित किया था। गौरतलब है कि पिछले काफी समय से यह मामला लंबित है। बुधवार नगरविकास मंत्री शिंदे ने सातवां वेतन लागू करने बाबत आवश्यक कार्रवाई एक सप्ताह में पूरी करने के आदेश दिए। 

नागपुर महानगरपालिका कर्मचारियों को राज्य सरकार की तरह सातवां वेतन आयोग देने के लिए विकास ठाकरे के नेतृत्व में नगरसेवक संदीप सहारे की प्रमुख उपस्थिति में और इंटक यूनियन के अध्यक्ष त्रिशरण सहारे सहित सैकड़ों कर्मचारियों ने तत्कालीन मनपा आयुक्त को निवेदन दिया था। दिवाली से पहले मनपा सभागृह और प्रशासन ने सातवां वेतन आयोग लगाने का निर्णय लिया था। लेकिन राज्य सरकार ने प्रस्ताव भेजकर मंजूरी लेने की शर्त लादी थी।  जिसकारण अगस्त-सितंबर में मिलने वाला वेतनमान लंबित रहा। शिक्षक व अन्य सभी कर्मचारियों को फायदा नहीं मिल पाया था। फिलहाल 

महाराष्ट्र: मुंबई में अपने 5 रुपये मांगने पर व्यक्ति की हत्या

कार्यकारी अभियंताओं के हाथ मनपा जोन की कमान
मनपा जोन की कमान अब कार्यकारी अभियंताओं के हाथ सौंपी गई है। सभी जोन के कार्यकारी अभियंताओं को जाेन भेज दिया गया है। कार्यकारी अभियंता पर जोन की जिम्मेदारी देकर सहायक आयुक्त को वार्ड अधिकारी बना दिया गया है। मनपा आयुक्त तुकाराम मुंढे ने पारदर्शी प्रशासन की दृष्टि से अनेक फेरबदल किए हैं। 6 फरवरी को एक परिपत्रक जारी किया है। 

मनपा के विविध विभागों में कार्यकारी अभियंता संबंधित विभाग के प्रमुख थे। उनकी जगह उपायुक्त को कमान दी गई है। कार्यकारी अभियंताओं को जोन की कमान देकर उन्हें जोन में भेज दिया गया है। जोन के सहायक आयुक्त के अधिकार निकालकर कार्यकारी अभियंता को दिए गए हैं। उन्हें जोन अंतर्गत झोपड़पट्टी विकास कार्यक्रम, दुर्बल घटक योजना, दलित बस्ती सुधार योजना अंतर्गत सभी प्रकार के स्थापत्य कार्यों की जिम्मेदारी संभालनी होगी। जलापूर्ति से संबंधित दैनंदिन कार्य, ड्रैनेज की व्यवस्था, दैनंदिन शिकायतों का निवारण, उद्यान, हस्तांतरण प्रकल्प, हॉट मिक्स आदि कार्यों पर भी कार्यकारी अभियंता का िनयंत्रण रहेगा। इससे पहले उपरोक्त सभी कामों की जिम्मेदारी सहायक आयुक्त निभाते थे। मुंबई मनपा की तर्ज पर यह परिवर्तन किया गया है।  इस फेरबदल से सहायक आयुक्तों के पर कतरे गए हैं।

खबरें और भी हैं...