comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

रिटायरमेंट के निकट पहुंचे कर्मचारी चुनाव ड्यूटी से बाहर

रिटायरमेंट के निकट पहुंचे कर्मचारी चुनाव ड्यूटी से बाहर

डिजिटल डेस्क, नागपुर। जिला निर्वाचन कार्यालय ने सेवानिवृति के निकट पहुंचे  कर्मचारी व अधिकारियों को चुनाव ड्यूटी से दूर कर दिया है। इससे संबंधित कर्मचारी व अधिकारी राहत महसूस कर रहे है। जिले में विधान सभा की 12 सीटें है आैर यहां 40 हजार से अधिक कर्मचारी-अधिकारी चुनाव ड्यूटी में लगे है। इसमें पुलिस बल शामिल नहीं है। 31 हजार कर्मचारी सीधे पोलिंग ड्यूटी से जुड़े हुए हैं। 

राज्य सरकार के कर्मचारी 58 वर्ष की आयु में व केंद्र सरकार के कर्मचारी 60 साल की आयु पूरी होने पर सेवानिवृत्त होते हैं। राज्य सरकार व केंद्र सरकार के अधीन काम करनेवाले कर्मचारी व अधिकारियों की ड्यूटी चुनाव में लगाई जाती है। जिले की (शहर व ग्रामीण) 12 विधान सभा  सीटों के लिए चुनाव ड्यूटी में 40 हजार से ज्यादा कर्मचारियों को लगाया जाएगा। 31 हजार ऐसे कर्मचारी है, जो सीधे पोलिंग ड्यूटी में रहेंगे आैर इन्हें चुनाव संबंधी प्रशिक्षण दिया गया है।

शेष अधिकारी व कर्मचारी चुनाव के दाैरान विविध सेवा देंगे। इसमें पुलिस बल शामिल नहीं है। इसके अलावा पुलिस, स्टेट एक्साइज व राजस्व अधिकारी मिलकर बने उड़न दस्ते भी शामिल नहीं है। लोक सभा चुनाव में चुनाव ड्यूटी कर चुके एक हजार से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारी विधान सभा चुनाव में सेवा नहीं दंेगे। रिटायर्डमेंट में जिन अधिकारी-कर्मचारियों को छह महीने से कम का समय बचा है, उन्हें चुनाव ड्यूटी से दूर रखा गया है।

इसकी वजह यह बताई जा रही है कि ये कर्मचारी अपनी बची हुई छुट्टी का लाभ ले सके, रिटायर्डमेंट के बाद मिलने वाले लाभ के लिए जरूरी दस्तावेजी प्रक्रिया पूरी कर सकें, जो कार्यालयीन काम बचे है वे पूरा कर सके, रिटायर्डमेंट से संबंधित कागजी कार्यवाही पूरी कर सके।  इसके अलावा स्वास्थ्य की समस्या खड़ी न हो इसका भी ख्याल रखा गया है। रिटायर्डमेंट के करीब पहुंचे कर्मचारियों ने इसे अच्छा कदम बताया है।

कमेंट करें
nB3Z5