दैनिक भास्कर हिंदी: आंबेडकर की मांग 150 रुपए में मिले टीका, फडणवीस बोले - केंद्र सभी को उपलब्ध कराएगा फ्री वैक्सीन

April 26th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ कर दिया है कि देश के हर नागरिक को मुफ्त में कोरोना टीका लगाया जाएगा। विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि यदि किसी सरकार को टीकाकरण को गति देनी होगी तो वह खुले बाजार से टीका खरीद सकता है। सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में फडणवीस ने कहा कि ने केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र को सर्वाधिक रेमडेसिविक इजेक्शन और भरपुर मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध कराया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने सर्वाधिक 4.35 लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन और 1750 मैट्रीक टन ऑक्सीजन महाराष्ट्र को उपलब्ध कराया है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र को केंद्र से 1100 वेंटीलेटर भेजे गए हैं। इसके बावजूद महा विकास आघाडी के नेता अपनी आदत के अनुसार केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाते रहते हैं।  

आंबेडकर की मांग 150 रुपए में मिले टीका 

उधर वंचित बहुजन आघाड़ी (वीबीए) के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने केंद्र सरकार से कोरोनारोधी टीका प्रति खुराक150 रुपए में उपलब्ध कराने की मांग की है। सोमवार को पुणे में आंबेडकर ने कहा कि केंद्र सरकार सभी लोगों को 150 रुपए में टीका उपलब्ध कराने का फैसला करे। यदि कोरोना के टीके की दर को कम नहीं किया गया तो राज्य में वीबीए की ओर से आंदोलन किया जाएगा। आंबेडकर ने कहा कि भारत में तैयार होने वाला टीके की दर निर्यात की कीमत से अधिक कैसे हो सकती है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिम्मेदार हैं। आंबेडकर ने कहा कि मेरी टीका उत्पादक कंपनियों से कोई अपेक्षा नहीं है लेकिन केंद्र सरकार 150 रुपए की दर निश्चित करे। अगर 150 रुपए से अधिक कीमत कोई वसूलता है कि उसके खिलाफ केंद्र सरकारको कानूनी कार्रवाई का प्रावधान करना चाहिए। आंबेडकर ने कहा कि 18 साल से अधिक आयु वालों को टीकाकरण के लिए राज्य सरकार को वैश्विक टेंडर निकालने का अधिकार है अथवा नहीं। इसको लेकर मेरे मन में आशंका है। मेरी कानून की जानकारी के अनुसार राज्य सरकार भारतीय मुद्रा में व्यवहार कर सकती है। राज्य सरकार विदेशी मुद्रा में व्यवहार नहीं कर सकती है। जिस राज्य को विदेशी मुद्रा में व्यवहार करने का अधिकार नहीं है उसे वैश्विक टेंडर निकालने का भी अधिकार नहीं है। एक सवाल के जवाब में आंबेडकर ने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मुझे कहीं पर नजर नहीं आते हैं। मुझे मुख्यमंत्री के रूप में उपमुख्यमंत्री अजित पवार ही नजर आते हैं। वे ही सरकार के महत्वपूर्ण फैसलों की घोषणा करते हैं। 

राहुल का तंज : देश को भाजपा के ‘सिस्टम’ का शिकार नहीं बनाया जाए

उधर नई दिल्ली में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ मुफ्त टीकाकरण की पैरवी करते हुए सोमवार को कहा कि भारत को भाजपा के ‘सिस्टम’ का शिकार नहीं बनाया जाए। उन्होंने ट्वीट किया, ‘चर्चा बहुत हो चुकी। देशवासियों को वैक्सीन मुफ्त मिलनी चाहिए- बात खत्म। मत बनाओ भारत को भाजपा सिस्टम का शिकार’। गौरतलब है कि भारत बायोटेक का कोवैक्सीन टीका प्रति खुराक राज्यों को 600 रूपये और निजी अस्पतालों को 1200 रूपये में मिलेगा। हालांकि यही टीका केन्द्र सरकार को प्रति खुराक 150 रूपये में मिलेगा। टीके के दाम में असमानता पर कई राज्यों ने भी अपनी आपत्ति दर्ज कराई है। लिहाजा राहुल गांधी ने भी इस मसले को प्रमुखता से उठाया है। एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने मोदी सरकार पर कोरोना मरीजों का असली आंकड़ा छिपाने का आरोप लगाया है। उन्होने कहा, ‘रोजगार और विकास की तहर केन्द्र सरकार कोरोना का असली डेटा भी जनता तक नहीं पहुंचने दे रही।  महामारी ना सही, महामारी का सच तो नियंत्रण में कर ही लिया’! 
 
 

खबरें और भी हैं...