दैनिक भास्कर हिंदी: मंदिरों में होगी प्रसाद की जांच, गुणवत्ता परखेगा FDA

August 25th, 2017

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अब से तीर्थ स्थलों और मंदिरों में दिए जाने वाले प्रसाद की गुणवत्ता भी जांची जाएगी। महाराष्ट्र का खाद्य एवं औषधि विभाग (FDA) यह परखेगा कि प्रसाद के रूप में दी जाने वाली सामग्री खाने योग्य है अथवा नहीं। FDA महाराष्ट्र के सभी महत्वपूर्ण तीर्थस्थलों में दिए जानेवाले प्रसाद की जांच के बाद उसे प्रमाणित करेगा। सिद्धि विनायक मंदिर में यह व्यवस्था शुरू है। इस फैसले को चरणबद्ध तरीके से सभी तीर्थ स्थलों में लागू किया जाएगा।

इससे अब प्रसाद को विदेश भेजने से जुड़ी दिक्कतें खत्म हो जाएंगी। FDA आयुक्त पल्लवी दराडे ने कहा कि प्रसाद की जांच भक्तों के हित को ध्यान में रखते हुए की जा रही है। पहले सिद्धिविनायक मंदिर को अपना प्रसाद विदेशों तक भेजने में दिक्कत आती थी, लेकिन जब से FDA के तय नियमों के हिसाब से प्रसाद तैयार किया जाने लगा और नियमों के तहत इसकी पैकिंग होने लगी, तब से मंदिर का प्रसाद विदेश भेजने की दिक्कत दूर हो गई है।