खुलासा: मंत्रालय से गायब फाइल पुलिस को परमबीर सिंह के करीबी बिल्डर के मोबाइल से मिली

November 26th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के करीबी बिल्डर संजय पुनमिया के मोबाइल से मुंबई पुलिस को एक गोपनीय फाइल मिली है जो मंत्रालय से गायब हो गई थी। मामले में पुनमिया के खिलाफ मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है। शक है कि परमबीर सिंह के जरिए यह फाइल पुनमिया तक पहुंची है। जो फाइल पुनमिया के मोबाइल से बरामद हुई है उसमें राज्य के गृहविभाग और केंद्रीय जांच एजेंसी के बीच हुआ गुप्त पत्र व्यवहार है। यह जानकारी गोपनीय होने के चलते सूचना के अधिकार कानून के तहत भी किसी को नहीं दी गई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 27 पन्नों की यह फाइल परमबीर सिंह द्वारा की गई कार्रवाई से जुड़ी थी। यह फाइल पुनमिया के बेटे सनी पुनमिया के बेटे के मोबाइल से उसके मोबाइल पर भेजी गई है। सनी के मोबाइल तक यह फाइल कैसे पहुंची पुलिस इसकी जांच कर रही है। बता दें कि इससे पहले मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन ने परमबीर सिंह से जुड़े जबरन वसूली के मामले में पुलिस ने पुनमिया को गिरफ्तार किया था। उसके साथ सुनील जैन नाम का कारोबारी भी गिरफ्तार हुआ था। बाद में पुलिस ने दो पुलिस निरीक्षकों नंदकुमार गोपाले और आशा कोरके को भी इसी मामले में गिरफ्तार किया था। पुनमिया के हिस्सेदार रहे श्याम सुंदर अग्रवाल नाम के व्यक्ति ने मामले में शिकायत दर्ज कराई थी। परमबीर सिंह के अलावा, डीसीपी अकबर पठान और एसीपी श्रीकांत शिंदे भी मामले में आरोपी हैं। अग्रवाल का दावा है कि पुनमिया के कहने पर सिंह और दूसरे पुलिसवालों ने उन्हें मकोका के तहत फर्जी मामले में फंसाने की धमकी देकर 15 करोड़ रुपए वसूले थे।