दैनिक भास्कर हिंदी: रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार, पुलिस के नाम पर हड़प लेते थे रकम

April 28th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नई मुंबई की पनवेल पुलिस ने तीन ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो लोगों से रेमडेसिविर इंजेक्शन बेंचने के नाम पर पैसे लेते थे और बाद में दावा करते थे कि पुलिस ने इंजेक्शन और पैसे जब्त कर लिए। आरोपी ठगी का शिकार हुए लोगों को धमकी देते थे कि अगर उन्होंने पैसे वापस मांगे तो वे पुलिस को उनका नाम बता देंगे। गिरफ्तार आरोपियों के नाम सौरभ बोनकर, अनिकेत तांडेल और आकाश म्हात्रे है। मामले में शिकायतकर्ता के चाचा को कोरोना हो गया है और उनका पुणे के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। उन्हें रेमडेसिविर इंजेक्शन की बेहद जरूरत थी। उनकी जान पहचान के म्हात्रे ने बताया कि उसका बोनकर नाम का दोस्त रेमडेसिविर का इंतजाम कर सकता है।

शिकायतकर्ता ने बोनकर से संपर्क किया तो उसने तांडेल का मोबाइल नंबर देकर उससे संपर्क करने को कहा। फोन करने पर तांडेल ने शिकायतकर्ता से चार इंजेक्शन के लिए 88 हजार रुपए मांगे। तांडेल ने शिकायतकर्ता को पनवेल स्टेशन के बाहर बुलाया। उसने पैसे ले लिए और थोड़ी देर में उल्वे के बामनडोंगरी स्टेशन के बाहर इंजेक्शन लेकर मिलने की बात कही। तांडेल काफी समय तक वापस नहीं लौटा तो शिकायतकर्ता ने उसे फोन किया। तांडेल ने शिकायतकर्ता से कहा कि उसे पुलिस ने पकड़ लिया है और पैसों के साथ इंजेक्शन भी जब्त कर लिया है। आरोपी ने शिकायतकर्ता को धमकी दी कि अगर वह पैसे वापस करने का दवाब बनाएगा तो पुलिस को उसका नाम बता देगा।

शिकायतकर्ता ने पनवेल शहर पुलिस को मामले की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और फर्जी ग्राहक के जरिए आरोपियों से संपर्क किया। तांडेल ने फर्जी ग्राहक को भी रेमडेसिविर इंजेक्शन देने का वादा किया और उसे पैसों के साथ बुलाया लेकिन वहां पुलिस पहुंची जिसने पहले तांडेल फिर उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से 52 हजार रुपए नकद और 3 मोबाइल फोन जब्त कर लिए गए हैं। कोर्ट में पेशी के बाद आरोपियों को 3 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।