दैनिक भास्कर हिंदी: बलात्कार के बाद गर्भवती हुई युवती, डॉक्टर समेत 6 आरोपी गिरफ्तार  

July 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। फेसबुक पर शुरू हुई दोस्ती में युवक-युवती प्यार करने लगे। शादी का लालच दिखाकर आरोपी युवक युवती के साथ बार-बार शारीरिक संबंध बनाने लगा जिससे युवती गर्भवती हो गई। युवती के गर्भवती होने के बाद उसका गर्भपात कराने में युवक के परिवारवालों ने भी साथ दिया। युवती का पांच माह का गर्भ गिराने का मामला नागपुर जिले के अरोली पुलिस  स्टेशन थानांतर्गत सामने आया है। मामले की जांच के बाद गर्भपात करने वाले आरोपी डॉक्टर समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है।  प्रकरण में पुलिस ने मुख्य आरोपी राहुल जागृत कोडवते (22) उसके पिता जागृत हीरालाल कोडवते (50) ,मां सुनीता जागृत कोडवते (45 ), भाई विशाल ( 18),  आरोपी के मौसा  बाबूलाल पंढरी ( 45) व डॉक्टर राजे श्यामलाल पसीने (61 ) को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपी हिवरा तहसील मोहाडी जिला भंडारा के रहने वाले हैं।  

जान से मारने की धमकी 
जानकारी के अनुसार गर्भवती होने की बात युवती ने अपने परिजनों को बताई तो परिजनों ने राहुल के घर जाकर शादी की बात की । राहुल के परिवार वाले शादी के लिए राजी नहीं हुए। राहुल के परिवार वालों ने युवती को पहले गर्भपात करने के लिए कहा। युवती का गर्भपात करने के बाद धमकी देते हुए वहां से चले जाने के लिए कहा। दोबारा राहुल से मिलने पर जान से मारने की धमकी दी। राहुल के परिवारवालों की ज्यादती से आहत युवती व उसके परिवारवालों ने पुलिस में मामला दर्ज कराया। थानेदार विवेक सोनवणे ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज किया।   

तीन दिनों तक झोपड़ी में रखा

जानकारी के अनुसार गर्भपात करने के तीन दिन पहले युवती और उसके परिजनों को तीन दिनों तक खेत में बनी एक झोपड़ी में रखा। यहां आरोपी के परिवारवाले टिफिन लाकर देते थे। गर्भपात होने के बाद टिफिन लाना बंद कर दिया । इस बीच बारिश आने से झोपड़ी में पानी जमा हो गया पीड़ित युवती और उसके परिजनों को आरोपियों ने तीन दिनों तक पानी में रखा। 

डॉक्टर को दिए 15000 हजार 

पांच महीने का गर्भ गिराने के लिए सभी आरोपी  पीड़ित युवती को लेकर डॉक्टर राजेश पशिने के पास लेकर गये। वहां उसे डॉक्टर ने इंजेक्शन लगाया। इंजेक्शन लगाने के दूसरे ही दिन युवती का गर्भपात हुआ। इस काम के लिए डॉक्टर के 15 हजार रुपए दिए गए थे। 

युवती के सामने जलाया भ्रूण

आरोपी राहुल ने युवती को झोपड़ी से कुछ ही दूरी पर एक नाले पर ले गया और वहां युवती के सामने भ्रूण जलाया। अपने मंसूबों को पूरा करने के बाद आरोपी ने झोपड़ी के मालिक से सभी को वहां से भगाने को कहा। घटना के बाद युवती का स्वास्थ्य काफी बिगड़ गया। युवती के स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद पुलिस में मामला दर्ज किया गया।