हरियाणा : डीएपी खाद की कमी से जूझ रहे हरियाणा के किसान : हुड्डा

November 2nd, 2022

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष भूपिंदर सिंह हुड्डा ने बुधवार को राज्य की भाजपा सरकार से उर्वरकों की कमी, रिकॉर्ड बेरोजगारी और सीईटी परीक्षा केंद्र दूर-दराज के इलाकों में आवंटित करने को लेकर सवाल किया। उन्होंने कहा कि आदमपुर सहित पूरे राज्य में किसान डीएपी उर्वरक की कमी का सामना कर रहे हैं।

हुड्डा ने कहा, मुख्यमंत्री जब आदमपुर मंडी में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे, तो किसान कार्यक्रम स्थल से 50 मीटर दूर खाद के लिए लंबी कतारों में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। स्थिति यह है कि कई दिनों तक कतारों में खड़े रहने के बाद भी किसान अपनी फसलों के लिए उर्वरक प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, किसानों को धान, बाजरा और कपास के भुगतान के लिए इंतजार करना पड़ता है। सरकार के दावों के बावजूद यह किसानों को समय पर भुगतान करने में असमर्थ है। किसानों को खराब मौसम के कारण क्षतिग्रस्त फसलों का मुआवजा पिछले तीन साल से नहीं मिला है। बेरोजगारी के मुद्दे पर हुड्डा ने कहा कि सीएमआईई के आंकड़ों ने एक बार फिर सरकार को आईना दिखाया है।

उन्होंने कहा, सरकार की नीतियों के कारण हरियाणा 31.8 प्रतिशत की बेरोजगारी दर के साथ देश में शीर्ष पर है। हर महीने जारी होने वाले बेरोजगारी के आंकड़े हर बार यही कहानी बताते हैं, क्योंकि वर्तमान भाजपा-जजपा सरकार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने में पूरी तरह विफल रही है।

हुड्डा ने कहा कि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) के लिए लंबे समय से इंतजार कर रहे युवाओं को सरकार परेशान कर रही है। उन्होंने कहा, युवाओं को उनके घरों से 150-200 किमी दूर सीईटी परीक्षा केंद्र दिए गए हैं। इससे उम्मीदवारों, विशेषकर महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। कई बार ऐसा देखा गया है कि इस तरह के निर्णय के कारण सरकार, उम्मीदवार घातक हादसों का शिकार हो गए हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि सरकार की संवेदनाएं खत्म हो गई हैं और इसने एक बार फिर युवाओं की जान जोखिम में डाल दी है।

हुड्डा ने कहा कि इसी उदासीनता के कारण राज्य का हर वर्ग इस सरकार को बदलना चाहता है। उन्होंने कहा, बदलाव आदमपुर से शुरू होगा और जनता अपने वोट के दम पर भाजपा सरकार को सबक सिखाएगी। आदमपुर में उपचुनाव 3 नवंबर को होगा।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.