दैनिक भास्कर हिंदी: तलाक के लिए अदालत में आयी पत्नी को जान से मारने की कोशिश, पति-पत्नी पुलिस विभाग में हैं कार्यरत

December 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर। तलाक के लिए अदालत में आएं पति ने अदालत के कैन्टीन के पीछे पत्नी को ओढनी से जान से मारने का प्रयास करने का मामला सामने आया है। विशेष बात यह है कि दोनों पति-पत्नी पुलिस विभाग में कार्यरत हैं। इस घटना से पुलिस विभाग में खलबली मच गई है। पत्नी की शिकायत पर रामनगर पुलिस आरोपी पति को गिरफ्तार किया है।
रामनगर पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी सिद्धार्थ पाटील जिवती तहसील के वणी कैम्प पुलिस थाने में कार्यरत हैं। जबकि फरियादी देविका (नाम बदला हुआ) पुलिस मुख्यालय के नियंत्रण कक्ष में कार्यरत हैं।

सिद्धार्थ और देविका में प्रेम संबंध था। ऐसे में उन्होंने वर्ष 2015 में शादी के बंधन में बंधने का निर्णय लिया। ब्याह रचाकर उन्होंने अपनी नई जिंदगी शुरू की। कुछ दिनों तक उनका अच्छा संस्कार चलने के बाद दोनों में किसी न किसी बात को लेकर विवाद होने लगा। ऐसे में उन्होंने अलग होने का निर्णय लिया। इसके लिए उन्होंने चंद्रपुर जिला अदालत में तलाक के लिए अर्जी लगाई। इस बीच बुधवार को अदालत में एक सुनवाई में दोनों आए थे। बताया जाता है कि इस दौरान पैसों को लेकर उनमें विवाद हुआ। सिद्धार्थ के साथ उसके दो परिजन भी थे। सिद्धार्थ ने देविका को 2 मिनट बात करना है, ऐसा बोलकर अदालत के कैन्टीन के पिछे के परिसर में ले गया। जहां उसकी ही ओढनी से गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया। चीख-पुकार कर देविका उसके चुंगल से भाग निकली और रामनगर पुलिस थाने में पहुंची। पुलिस को आपबिती सुनाते हुए शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने शिकायत के आधार पर सिद्धार्थ पाटील (32) और उसके दो परिजनों के खिलाफ धारा 498 अ, 307, 34 के तहत मामला दर्ज किया। पुलिस ने सिद्धार्थ को गिरफ्तार किया। उसे अदालत में पेश करने पर न्यायीक हिरासत में भेजने के आदेश दिए गए, ऐसी जानकारी रामनगर पुलिस ने दी। मामले की और अधिक जांच रामनगर पुलिस कर रही है।