उद्योग जगत के प्रतिनिधियों से मुलाकात  : योगी राज में यूपी की छबि बदलने से बढ़ रहा निवेश

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के सख्त प्रशासन के चलते जिस तरह यूपी में गुंडाराज समाप्त हुआ है, उससे प्रदेश में तेजी से निवेश बढ़ रहा है। प्रदेश में शांतिपूर्ण माहौल के चलते उद्योगपति यहां इंडस्ट्री लगाने में रुचि ले रहे हैं। यह कहना है इंडो-अमेरिकन चेम्बर ऑफ कामर्स के के लखनऊ ईकाई अध्यक्ष मुकेश सिंह का। महानगर के एक पंच सितारा होटल में आयोजित सेमिनार ‘नेविगेटिंग थ्रू टर्बुलेंट टाइम्स’ में हिस्सा लेने आए सिंह ने उद्योग जगत के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। 

शुक्रवार को मुंबई में पत्रकारों से बातचीत में सिंह ने कहा कि यूपी में इंडस्ट्री तेजी से बढ़ रही है। गुंडागर्दी खत्म होने से राज्य में उद्योग आ रहे हैं। 2017 के बाद माहौल बदला है। यूपी को लेकर उद्योग जगत में मनोवैज्ञानिक बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि मुंबई में उद्योग जगत के प्रतिनिधियों के साथ मेरी बैठक हुई है। मैंने इन्हें उत्तर प्रदेश आने के लिए आमंत्रित किया है। मुकेश सिंह ने कहा कि यूपी में अपार संभावनाएं हैं। राज्य में फिल्म शूटिंग के लिए अच्छी लोकेशन। इन दिनों सैकड़ों फिल्मों और वेब सिरिज की शुटिग हो रही है। उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र और यूपी के उद्योगपतियों के बीच पूल बनाना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि पिछले इन्वेस्टर समिट के बाद अमेरिका आधारित कंपनियों ने उत्तर प्रदेश में 30 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया है। 

इसके पहले इंडो अमेरिकन चेम्बर ऑफ़ कामर्स के वेस्ट इंडिया काउन्सिल द्वारा आयोजित सेमिनार में विशेष आमंत्रित अतिथि के तौर पर सिंह ने उत्तर प्रदेश के परिप्रेक्ष्य में अपनी बात रखी। सिंह ने उद्योगपतियों और उनके प्रतिनिधियों को उत्तर प्रदेश में आमंत्रित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की नीतियों उद्योगों के हित में हैं। सिंह ने कहा कि लखनऊ व वाराणसी में इंडो-अमेरिकन चेम्बर लखनऊ चैप्टर कांफ्रेंस आयोजित कर देश के बड़े उद्योगपतियों को आमंत्रित करके नीति विषयक चर्चा करेगा।