दैनिक भास्कर हिंदी: लोगों को देख गुर्रा रहा था घायल तेंदुआ, रेस्क्यू टीम लायी गोरेवाडा

December 15th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पवनी रोड पर उस वक्त वाहन चालकों का जमावड़ा लग गया जब सड़क के किनारे एक तेंदुआ घायल अवस्था में पड़ा हुआ दिखा। दरअसल इस तेंदुए को किसी अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी थी, जिससे तेंदुआ बुरी तरह घायल हो गया था। उसके पैर और कमर में गंभीर चोट लगने से वह उठ भी नहीं पा रहा था ऐसे में सड़क के किनारे पड़ा हुआ था। मार्ग से गुजरने वाले वाहन चालकों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी तुरंत नागपुर से रेस्क्यू टीम पहुंची जिसने तेंदुए को बेहोश कर नागपुर गोरेवाडा में लाया। जहां उसका इलाज चल रहा है। रेस्क्यू एसीएफ विशाल बोराडे के नेतृत्व में नागपुर रेस्क्यू टीम और स्थानीय लोगों की मदद से तेंदुए को नागपुर लाया गया। 

सड़क किनारे पड़ा था घायल
जानकारी के अनुसार रामटेक मार्ग पर देवलापार के समीप हाईवे से गुजरने वाले लोगों को सड़क के किनारे एक नाली में तेंदुए की आवाज सुनाई दी। लोगों ने जब नाली में झांक कर देखा तो उसमें करीब 3 साल का तेंदुआ घायल अवस्था में पड़ा हुआ मिला, जो लोगों को देख गुर्रा रहा था हालांकि उसके पैर और कमर में जबरदस्त मार लगने से वह उठ नहीं पा रहा था। लोगों ने तुरंत इसकी जानकारी स्थानीय वन विभाग को दी गई, जिसके बाद सुबह 8:00 बजे नागपुर रेस्क्यू टीम को घटना के बारे में बताया गया ऐसे में नागपुर की टीम घटनास्थल के लिए सुबह ही रवाना हुई। टीम यहां पर करीब 10:00 बजे पहुंची, जिसके बाद रेस्क्यू शुरू किया गया। रेस्क्यू के दौरान पहले तेंदुए को डॉट मार बेहोश किया गया इसके बाद टीम ने उसे जाल में पकड़ कर वैन से नागपुर के पशु चिकित्सालय में लाया। यहां तेंदुए का एक्सरे किया गया। जिसके बाद उसे इलाज के लिए गोरेवाडा ट्रांजिट ट्रीटमेंट सेंटर में भेजा गया। उल्लेखनीय है कि रामटेक मार्ग पर बीच के घना जंगल है। रात के वक्त यह तेंदुआ किसी एक्सीडेंट का शिकार होने का अंदेशा है।

खबरें और भी हैं...