दैनिक भास्कर हिंदी: 1 करोड़ 67 लाख का खाद व कीटनाशक जब्त, 3 के खिलाफ मामला दर्ज

July 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। बुटीबोरी में बिना लाइसेंस के संग्रहित रासायनिक खाद तथा कीटनाशक जिला परिषद कृषि विभाग के उड़नदस्ते ने छापा मार कर  जब्त किया है। जब्त माल की कीमत 1 करोड़, 67 लाख, 47 हजार 574 रुपए आंकी गई है।  बुटीबोरी में नरशेट्टीवार की गजानन फर्टिलाइजर प्रा. लिमिटेड नामक कंपनी है। कंपनी के पास 2 जून 2014 से 1 जून 2017 तक खाद संग्रहण तथा बिक्री का लाइसेंस था। लाइसेंस नूतनीकरण किए बिना नरशेट्टीवार खाद और कीटनाशक की खरीदी कर संग्रहण कर रहा था। जिला परिषद के कृषि विभाग को इसकी गुप्त सूचना मिली। सूचना के आधार पर जिला कृषि विभाग के उड़नदस्ते ने बुटीबोरी एमआईडीसी इंडोरामा गेट क्र.-2 के गोदाम पर छापा मारा।

छापे में एक करोड़, 67 लाख 47 हजार 574 रुपए कीमत का रासायनिक खाद और कीटनाशक जब्त किया गया। जब्त माल वर्ष 2018 में उत्पादित बताया जाता है। गोदाम में खाद और कीटनाशक की बिक्री से संबंधित कोई सबूत नहीं मिलने से अन्य राज्यों से में इसकी बिक्री होने की आशंका व्यक्त हो रही है। रासायनिक खाद और कीटनाशक के अवैध संग्रहण के आरोप में बुटीबोरी एमआईडीसी पुलिस थाने में सतीश नरशेट्टीवार, सोनाली नरशेट्टीवार और मंगेश कोमावार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। छापामार कार्रवाई को विभागीय कृषि सहसंचालक रवींद्र भोसले के नेतृतव में कृषि अधीक्षक मिलिंद शेंडे, पंचायत कृषि अधिकारी के. पी. उइके, जिला परिषद के कृषि अधिकारी प्रवीण देशमुख ने अंजाम दिया।

11 लाख का पेंट गायब

एमआईडीसी थाना अंतर्गत एक कंपनी के वेअर हाउस से 11 लाख 8 हजार 254 रुपए के पेंट डिब्बे गायब होने का मामला सामने आया है। कंपनी के मालिक ने वेयर हाउस की देख-रेख करने वाले दो लड़कों पर चोरी का आरोप लगाया है। पुलिस जांच कर रही है। उपरोक्त थाना अंतर्गत टोटल शिपिंग एंड लॉजिस्टिक प्रा. लिमेटेड कंपनी है। इस कंपनी का वेयर हाउस भी है। जहां एक प्रतिष्ठित कंपनी के पेंट के डिब्बे रखे हैं। इसकी देख-रेख का जिम्मा आरोपी श्रीकांत दडवी ( 48) व कोरशी भामगरा (58), निवासी हिंगना पर है। दोनों यहां 7 से 8 साल से काम कर रहे हैं। बताया गया कि, जनवरी माह में कंपनी का स्टॉक चेक करने पर स्टॉक पूरा था, लेकिन गुरुवार को स्टॉक चेक करने पर इसमें 11 लाख से ज्यादा के पेंट के डिब्बे गायब होने की बात सामने आई है। फरियादी लक्ष्मीकांत तिवारी (36), निवासी मुंबई ने आरोपी पर संदेह जताते हुए शिकायत दर्ज कराई है।