comScore

नाबालिग के साथ रेप और हत्या मामले में मराठा क्रांति मोर्चा ने आंदोलन की चेतावनी दी

नाबालिग के साथ रेप और हत्या मामले में मराठा क्रांति मोर्चा ने आंदोलन की चेतावनी दी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मराठा क्रांति मोर्चा रायगड की रोहा तहसील के तांबडी में नाबालिग लड़की से हुए बलात्कार और हत्या मामले में राज्य सरकार के खिलाफ आक्रामक हो गया है। रविवार को तांबडी की घटना को लेकर मराठा क्रांति मोर्चा के समन्वयकों ने भोईवाडा में बैठक की। मराठा क्रांति मोर्चा के नेता महेश राणे ने दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा कि इस मामले में राज्य सरकार ने यदि 24 सितंबर तक चार्जशीट दाखिल नहीं किया तो मराठा समाज की ओर से 26 सितंबर को रोहा के तांबडी में मोर्चा निकाला जाएगा। मराठा क्रांति मोर्चा की ओर तांबडी में निकाला जाने वाला मोर्चा 60 वां मोर्चा होगा। अभी तक मराठा समाज 59 मोर्चा निकाल चुका है। राणे ने कहा कि हमारी राज्य सरकार से तांबडी की घटना को फास्ट ट्रैक अदालत में चलाने की मांग है। सरकार इस मामले के लिए लिए वरिष्ठ वकील उज्ज्वल निकम को नियुक्त करे।

राणे ने कहा कि अहमदनगर कोपर्डी की घटना के बाद मराठा क्रांति मोर्चा की ओर से साल 2017 से 59 मोर्चा निकाला गया। इन मोर्चों में मराठा समाज के 42 लोगों की जान चली गई। तत्कालीन भाजपा सरकार ने मराठा आरक्षण की लड़ाई में जान गवाने वाले 42 लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए की मदद और परिवार के एक सदस्य को एसटी महामंडल में नौकरी देने का आश्वासन दिया था। राणे ने कहा कि भाजपा सरकार ने इस मांग को पूरा नहीं किया तो हमने मुंबई के आजाद मैदान में धरना -प्रदर्शन किया था उस समय शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे और युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने वादा पूरा करने का आश्वासन दिया था लेकिन अब पक्ष प्रमुख उद्धव ही राज्य के मुख्यमंत्री हैं लेकिन अभी तक सरकार ने अपना वादा पूरा नहीं किया है। 

कमेंट करें
UxhNG