दैनिक भास्कर हिंदी: सीएम फडणवीस से ओबीसी नेताओं ने कहा- उनके कोटे से न दिया जाए मराठा आरक्षण

August 2nd, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शिवसेना के पूर्व विधायक अनंत तरे ने आरक्षण की मांग को लेकर मराठा समाज की तरफ से बुलाए गए मुंबई बंद के दिन नई मुंबई में हुए हिंसक आंदोलन और आगजनी की घटना की न्यायिक जांच कराने की मांग की है। गुरुवार को तरे ने ओबीसी और कोली समाज के नेताओं के साथ इस संबंध में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से दादर स्थित मुंबई भाजपा कार्यालय में मुलाकात की।

मुंबई हिंसा की न्यायिक जांच की मांग 

तरे ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी सौंपा। सूत्रों के अनुसार ज्ञापन में कहा गया है कि मराठा समाज को ओबीसी कोटे में आरक्षण नहीं दिया जाना चाहिए। पत्रकारों से बातचीत में तरे ने कहा कि 25 जून को मुंबई बंद के दौरान नई मुंबई के कई इलाकों में आगरी और कोली समाज के घरों पर हमले हुए। कई लोगों के यहां पर तोड़फोड़ की गई। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। हम सरकार से पूछना चाहते हैं कि आखिर पुलिस पर किसका दबाव था। सरकार को पूरी घटना की जांच करानी चाहिए। तरे ने कहा कि आगारी और कोली समाज के लोगों को परेशान किया गया तो हम लोग शांत नहीं बैठेंगे।