दैनिक भास्कर हिंदी: सोशल मीडिया पर राज ठाकरे की आलोचना करने वाले की मनसे कार्यकर्ताओं ने कर दी पिटाई

April 10th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज ठाकरे के खिलाफ राजनीतिक टिप्पणी से नाराज मनसे कार्यकर्ताओं ने एक 57 वर्षीय भाजपा कार्यकर्ता को न सिर्फ बुरी तरह पीटा बल्कि कैमरे के सामने इसे माफी मांगने पर भी मजबूर किया। इसके बाद मनसे कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यकर्ता की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इससे अपमानित महसूस कर रहे भाजपा कार्यकर्ता ने ठाणे के राबोडी पुलिस स्टेशन में आरोपी मनसे कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

भाजपा कार्यकर्ता प्रदीप राणे ने अपनी शिकायत में बताया है कि रविवार को उन्हें वाट्सएप पर एक संदेश मिला था, जिसमें राज ठाकरे की तस्वीर के साथ लिखा था कि जो चीज किराए पर मिलती है, उसे खरीदने की क्या जरूरत है। राणे के मुताबिक उन्होंने गलती से वृदावन परिसर रहिवासी संघ नाम के ग्रुप में इसे फारवर्ड कर दिया। इसके बाद रविवार शाम चार बजे के करीब ठाणे मनसे उपाध्यक्ष विश्वजीत जाधव राबोडी इलाके के दो पार्टी कार्यकर्ताओं शिश और जमील के साथ उनके घर पहुंच गए। तीनों ने उन्हें धमकाते हुए मारपीट शुरू कर दी। आरोपियों ने राणे को पोस्ट और ग्रुप डिलीट करने और कैमरे के सामने हाथ जोड़कर माफी मांगने पर मजबूर किया। आरोपियों ने फिर भी राणे की पिटाई जारी रखी तो वे किसी तरह घर से भागे और पास ही स्थित एक टेलरिंग की दुकान में पहुंचे, लेकिन आरोपियों ने उनका पीछा किया और यहां भी मारपीट की। वहां भी आरोपियों ने उन्हें कान पकड़कर माफी मांगने पर मजबूर किया और जमील ने अपने मोबाइल में इसकी रिकॉर्डिंग कर ली। बाद में राणे ने पाया कि उनकी पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। 

अपमानित महसूस कर रहे राणे ने सोमवार रात मामले की शिकायत पुलिस से की। सीनियर इंस्पेक्टर आरएम सोमवंशी बताया कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 452, 323, 504, 500 और 34 के तहत एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। फिलहाल किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। दो दिनों पहले घाटकोपर इलाके में भी राज ठाकरे की आलोचना से नाराज मनसे कार्यकर्ताओं ने एक शख्स की पिटाई की थी और कैमरे के सामने माफी मांगने को मजबूर किया था। 

सोशल मीडिया पर खुद को पुलिस अधिकारी बता झांसा देने वाली महिला गिरफ्तार
उधर खुद को पुलिस अधिकारी बताकर पुलिस कांस्टेबल की पत्नी को झांसा देकर चोरी करने वाली एक महिला को ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी महिला ने तीन सितारों वाली वर्दी के साथ अपनी तस्वीरें खिंचाई हैं। सोशल मीडिया पर उसने कई नामी लोगों के साथ अपनी तस्वीरें पोस्ट कीं हैं। हैरानी की बात ये है कि वर्दी के झांसे में कई पुलिसकर्मियों ने उसकी फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली है। कल्याण इलाके से पकड़ी गई महिला आरोपी का नाम भक्ति शिंदे उर्फ सारिका शिंदे है। घाटकोपर में तैनात के पुलिस कांस्टेबल राजवर्धन वाघ की पत्नी विदिशा ने शिंदे के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। 

वाघ ने अपनी शिकायत में बताया कि खुद को एसीपी बताने वाली शिंदे ने सोशल मीडिया के सहारे उससे दोस्ती की। इसके बाद अलग-अलग बहाने से वह उसके डोंबिवली के नांदिवली इलाके में स्थित घर में आने लगी। शिंदे ने विदिशा का भरोसा जीतने के लिए बताया कि उसे निजी कारणों से निलंबित कर दिया गया है, लेकिन उसे जल्द ही फिर नौकरी पर तैनात कर दिया जाएगा। तीन अप्रैल को शिंदे उसके घर आई थी इसी दौरान विदिता कुछ सामान लेने नीचे दुकान पर गई। इसके बाद शिंदे ने उसे बुलाने के बहाने उसकी बेटी को भी नीचे भेज दिया और घर से गहने, मोबाइल और नगदी चुराकर फरार हो गई। इसकी जानकारी मिलने के बाद मानपाडा पुलिस स्टेशन में मामले की शिकायत दर्ज कराई। शिंदे की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसके पास से फर्जी पहचान पत्र भी बरामद किया है।

पूछताछ में खुलासा हुआ है कि शिंदे ने कई लोगों को इसी तरह खुद को पुलिसकर्मी बताकर चूना लगाया है। उसने खुद को पुलिस अधिकारी बताकर कुल तीन शादियां की हैं। उसके तीसरे पति ने नई मुंबई के कोपरखैरणे पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ ठगी की शिकायत भी दर्ज कराई है।

खबरें और भी हैं...