comScore

नागपुर एयरपोर्ट को हर महीने 40 लाख का नुक्सान, इंडिगो को मई तक राहत, मुंबई में अधिकारी ने कर ली खुदकुशी

नागपुर एयरपोर्ट को हर महीने 40 लाख का नुक्सान, इंडिगो को मई तक राहत, मुंबई में अधिकारी ने कर ली खुदकुशी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। एयरपोर्ट इकोनॉमिक रेगुलेटरी अथॉरिटी (ऐरा) ने निर्णय लिया है कि एयरपोर्ट ऑपरेट करने वाला प्रबंधन विमानों से फ्यूल थ्रोपुट चार्ज (एयरपोर्ट ऑपरेटर चार्ज) को वसूल नहीं करेगी। ध्यान देने वाली बात यह है कि ऐरा के इस निर्णय से संतरानगरी के डॉ.बाबासाहब आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय विमानतल के ऑपरेटर मिहान इंडिया लिमिटेड (एमआईएल) को हर माह 40 लाख रुपए का नुकसान होगा। हालांकि ऐरा ने कहा कि है कि एयरपोर्ट ऑपरेटर चार्ज की जगह वैकल्पिक चार्ज की व्यवस्था होगी, जिससे ऑपरेटर को नुकसान नहीं होगा। देश के विभिन्न विमानतलों के साथ ही नागपुर का विमानतल ईंधन से संबंधित शुल्क को तीन चरणों में वसूल करता था, जिसमें पहला- एयरपोर्ट ऑपरेटर चार्ज, दूसरा- फ्यूल इंफ्रास्ट्रक्चर चार्ज और तीसरा- इनटू प्लेन शुल्क। तरह-तरह के शुल्कों को ध्यान में रख कर ऐसा निर्णय लिया गया है, वहीं कुछ विमानतलों पर ईंधन की सप्लाई ओपन एसेस बेसिस पर करवाया जाता है। फ्यूल थ्रोपुट चार्ज विमानतल पर ईंधन सप्लाई करने के लिए विमान कंपनी से वसूल किया जाता है। जिसे 8 जनवरी से तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिया गया है इसके बाद से अब यह चार्ज वसूल नहीं किया जा रहा है। विमानतल ऑपरेटर एमआईएल द्वारा विमान कंपनियों से हर माह करीब 40 लाख रुपए का राजस्व वसूल किया जाता था, जिसे रद्द कर दिया गया है। फ्यूल थ्रोपुट चार्ज वसूलने से एमआईएल को हर साल 4.8 करोड़ रुपए का राजस्व मिलता था, जो 8 जनवरी से बंद हो गया है। ऐरा इस चार्ज के बदले में नया चार्ज लगाएगी, जिससे विमानतल ऑपरेटर को किसी प्रकार का नुकसान न झेलना पड़े, हालांकि फिलहाल कोई चार्ज लागू नहीं किया गया है, इस वजह से एमआईएल को नुकसान उठाना पड़ रहा है।

कमेंट करें
tbGZJ