दैनिक भास्कर हिंदी: ठंड के आगोश में संतरानगरी, सबसे ठंडा रहा नागपुर, पारा 14.5 डिग्री

November 14th, 2019

डिजिटल डेस्क,  नागपुर। शहर में इस सत्र का सबसे कम तापमान  बुधवार को 14.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह पूरे प्रदेश में भी सबसे कम रहा। यहां तक कि प्रदेश का हिल स्टेशन महाबलेश्वर का पारा भी संतरानगरी से ऊपर 16.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। पिछले दो दिनों से रात का पारा गिर रहा है।

थमी है ठंड
मौसम जानकारों के अनुसार, हवा की दिशा निचले स्तर पर उत्तरीय हुई है। हालांकि ऊपरी सतह पर अभी हवा पूर्व की ओर बह रही है। इसके चलते जितना जोर ठंड को पकड़ना चाहिए, नहीं पकड़ पाई है। हालांकि अरब सागर में आए 2 तूफान व बंगाल की खाड़ी में बने एक तूफान के चलते नमी का प्रवेश बना हुआ था। इससे ठंड का असर घटा रहा। अभी भी ऊपरी सतह पर हवा की दिशा पूर्वी है। इससे कुछ नमी प्रवेश कर रही है। निचली सतह पर यह उत्तरी हो गई है। हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी के चलते निचले स्तर पर ठंडी हवाएं प्रवेश कर रहीं हैं। इससे पारे में गिरावट दर्ज हो रही है। हालांकि हवा की गति थमी हुई है। इससे ठंड का उसर उतना महसूस नहीं हो रहा है। अनुमान है कि अगले सप्ताह तक ऊपरी सतह पर भी हवा उत्तरीय हो सकती है। इससे ठंड के बढ़ने के आसार रहेंगे। 

 अगले माह कंपकंपी
 मौसम जानकारों के अनुसार, दिसंबर मध्य तक हवा के पूरी तरह उत्तरीय होगी, साथ ही गति भी तेज रहेगी। इससे शहर विंड चिल्ड फैक्टर की चपेट में होगा। 
 
ऐसा रहा मौसम
बुधवार को दिन में सूर्य का तीखापन कम रहा। इससे दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज हुई। हालांकि अभी भी आर्द्रता का स्तर बढ़ा हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार, बुधवार को अधिकतम तापमान 30.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 1 डिग्री नीचे रहा। न्यूनतम तापमान मंगलवार की अपेक्षा 2 डिग्री गिरकर 14.5 डिग्री सेल्सियस रहा, जो  सामान्य से भी 2 डिग्री कम रहा। आर्द्रता अधिकतम 82 तथा न्यूनतम 61 प्रतिशत रही। मौसम में शुष्की का अहसास बढ़ा है।

 अनुमान
 मौसम विभाग के अनुसार, फिलहाल ठंड में विशेष गिरावट के आसार नहीं हैं। पूरे सप्ताह रात का पारा 13 से 16 डिग्री के मध्य ही बने रहने की उम्मीद है। नमी के आने से सुबह-सुबह कोहरे और ओस के भी आसार हैं।