मुंबई: नानाजी देशमुख परियोजना में मालेगांव तहसील के सभी गांवों शामिल

February 17th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश सरकार के नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी परियोजना में नाशिक जिले की मालेगांव तहसील के सभी गांवों को शामिल किया गया है। गुरुवार को सरकार के कृषि विभाग ने इस संबंध में शासनादेश जारी किया है। नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी परियोजना के निदेशक को मालेगांव तहसील के सभी गांवों में यह परियोजना को लागू करने के लिए विश्व बैंक और केंद्रीय वित्त मंत्रालय से सहमति लेने की प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं। सरकार के अनुसार नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी परियोजना के लिए चिन्हित 5142 गांवों में से विभिन्न कारणों से 64 गांवों में परियोजना को लागू कर पाना संभव नहीं है। क्योंकि कई गांवों का नगर पंचायतों में समावेश हो गया है और कुछ गांव वन ग्राम घोषित किए गए हैं। इसलिए इन 64 गांवों के बजाय मालेगांव तहसील के सभी गांवों को परियोजना में शामिल करने की मंजूरी देने का फैसला लिया गया है। इससे पहले पूर्व की फडणवीस सरकार ने जलवायु परिवर्तन के लिए अतिसंवेदनशील विदर्भ और मराठवाड़ा के 4210 गांवों और विदर्भ के पूर्णा नदी किनारे के 932 गांवों कुल 5142 गांवों में नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी परियोजना लागू करने का फैसला किया था। इस परियोजना पर विश्व बैंक की आर्थिक सहायता से छह सालों में लगभग चार हजार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। 
 

खबरें और भी हैं...