चौथे पायदान पर महाराष्ट्र : शहरी और राज्यों की श्रेणी में नीति आयोग का तीसरा इनोवेशन इंडेक्स जारी

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। नीति आयोग की ओर से गुरुवार को जारी तीसरे इनोवेशन इंडेक्स 2021 में शहरी राज्यों की श्रेणी में महाराष्ट्र चौथे पायदान पर है। नीति आयोग इंडिया इनोवेशन इंडेक्स के तहत राष्ट्रीय स्तर पर नवाचार (इनोवशन) क्षमता और पारिस्थतिकीय तंत्र की पड़ताल करता है। नीति आयोग के उपाध्यक्ष सुमन बेरी ने मुख्य कार्यकारी अधिकारी परमेश्वरन अय्यर की मौजूदगी में आज इस इनोवेशन इंडेक्स को जारी किया है। नीति आयोग के अनुसार इस इनोवेशन इंडेक्स को ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स की तर्ज पर तैयार किया गया है। इस इनोवेशन इंडेक्स में कर्नाटक, तेलंगाना और हरियाणा पहले तीन स्थानों पर है। जबकि महाराष्ट्र 16.6 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। नीति आयोग की इस रिपोर्ट में महाराष्ट्र की कुछ क्षेत्रों में किए गए कार्य की प्रशंसा भी की है। साथ ही कुछ क्षेत्रों में सुधार की आवश्यकता पर बल दिया है। डीटीएफ (डिस्टेंस फ्रॉम दी फ्रंटियर) में राज्य ने 20 युनिट्स का सुधार किया है। सूचना एवं संचार तकनीकी प्रयोगशाला के प्रतिशत में 44 से 71 फीसदी की बढ़त हासिल की है। इसके अलावा उच्च शिक्षा, पीएचडी में पंजीकरण, व्यवसाय अनुकूल वातावरण, ज्ञान पर आधारित उत्पादकता आदि स्तंभों में किए गए प्रदर्शन का इसमें ब्यौरा दिया गया है।  नीति आयोग की ओर से इनोवेशन पर जारी अपने आधिकारिक बयान में बताया गया है कि इस बार का इनोवेशन इंडेक्स 66 यूनिक इंडीकेटर्स के आधार पर तैयार किया गया है जबकि पिछले दो इनोवेशन इंडेक्स 36 इंडीकेटर्स के आधार पर तैयार किए गए थे।