दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर में तैयार हो रहा 1045 कि.मी क्षेत्र में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क, 136 जगह वाई-फाई

June 12th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। उपराजधानी स्मार्ट सिटी बन रही है। स्मार्ट सिटी प्रकल्प अंतर्गत शहर में 1045 कि.मी. क्षेत्र में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क तैयार किया गया है। 700 जंक्शन पर 3800 सीसीटीवी सर्विलांस कैमरे लगाए गए हैं। इसके अलावा 136 जगह पर वाई-फाई शुरू किया गया है। 40 हजार लोग इसके जरिए इंटरनेट सेवा का लाभ ले सकते हैं। इसमें आधा घंटा फ्री इंटरनेट सुविधा मिलेगी। शासकीय कामकाज के लिए कभी भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। फिलहाल एक दिन में 38 हजार लोगों ने इसका उपयोग किया है। यह दावा नागपुर स्मार्ट एन्ड सस्टेनेबल सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड के सीईओ डॉ. रामनाथ सोनवणे ने किया।  डॉ. सोनवणे ने दैनिक भास्कर कार्यालय को सदिच्छा भेंट दी। इस दौरान वे संपादकीय सहयोगियों के साथ अनौपचारिक चर्चा कर रहे थे। चर्चा में स्मार्ट सिटी योजना के जनसंपर्क अधिकारी मनीष सोनी भी उपस्थित थे। 

पारडी-भरतवाड़ा-पुनापुर में 5 सड़कों का काम इसी सप्ताह शुरू होगा 
डॉ. रामनाथ सोनवणे ने कहा कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के एरिया बेस्ट डेवलपमेंट योजना अंतर्गत पारडी-भरतवाड़ा-पुनापुर-भांडेवाड़ी में 1730 एकड़ क्षेत्र के लिए प्रारूप नगर रचना परियोजना तैयार की गई है। योजना के माध्यम से एक नियोजनबद्ध विकास किया जाएगा। योजना अंतर्गत प्रस्तावित 24 प्रकल्पों का डीपीआर तैयार किया गया है। फिलहाल 51.9 किलोमीटर लंबी सड़क को बनाने का काम किया जा रहा है। 5 सड़कों का काम इसी सप्ताह शुरू किया जाएगा। मौजूदा स्थिति पर कोई प्रभाव नहीं होगा। सिर्फ सड़क और ईडबल्यूएस स्कीम के लिए कुछ मात्र में जगह अधिगृहीत होगी। योजना का काम बीच में रुकेगा नहीं। ठेकेदारों से इस तरह का अनुबंध किया गया है। स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत प्रोजेक्ट को 5 साल में पूरा करने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि ग्रीन बिल्डिंग की संकल्पना पर भी काम किया जा रहा है। इसके अलावा बाय-साइकिल ट्रान्सपोर्ट, ई-रिक्शा को भी लाना चाहते हैं। 

2635 करोड़ के प्रकल्प प्रस्तावित
डॉ. रामनाथ सोनवणे ने कहा कि स्मार्ट सिटी योजना का उद्देश्य जीवन स्तर ऊंचा उठाने सहित तकनीक का बेहतरीन इस्तेमाल और नागरिकता के भाव में बढ़ोतरी करना है। मनपा निर्वाचित संस्था है। निर्णय प्रक्रिया में समय लगता है। इसलिए सरकार ने नागपुर स्मार्ट एंड सस्टेनेबल सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड अंतर्गत स्पेशल पर्पस व्हीकल (एसपीवी) कंपनी का गठन किया है। एसपीवी में 15 सदस्य हैं। योजना अंतर्गत 2635 करोड़ रुपए के प्रकल्प प्रस्तावित हैं। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस व केंद्रीय परिवहन मंत्री नितीन गडकरी के विशेष योगदान  के कारण तेजी से काम हो रहा है। फिलहाल नागपुर सेफ एंड स्मार्ट सिटी प्रकल्प क्रियान्वित किया जा रहा है।

प्रकल्प के लिए 520 करोड़ खर्च अपेक्षित है। राज्य सरकार ने 394 करोड़ व नागपुर स्मार्ट एंड सस्टेनेबल सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने 126 करोड़ रुपए उपलब्ध कराए हैं। 1045 कि.मी के ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क तैयार करने सहित 700 जंक्शनस् पर 3800 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। 136 वाई-फाई हॉट्स-पॉट्स, 53 वेरिएबल मैसेज साइन बोर्ड, 10 एन्वॉयरमेंटल सेंसर, 56 स्थानों पर पब्लिक अनॉउंसमेंट सिस्टम लगाए गए हैं। मनपा मुख्यालय में सिटी ऑपरेशन सेंटर तैयार किया गया है। पुलिस आयुक्तालय के लिए कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का काम प्रगतिपथ पर है। इससे अपराधों की रोकथाम में मदद मिलेगी। मनपा मुख्यालय में तैयार किए गए सिटी ऑपरेशन सेंटर के जरिए नागरी सुविधा जल्द उपलब्ध कराना संभव हो सकेगा। इसके अलावा पारदर्शी, गतिमान और लोकाभिमुख प्रशासन की संकल्पना प्रत्यक्ष में साकार करने में मदद मिलेगी। 
 

खबरें और भी हैं...