दैनिक भास्कर हिंदी: परमबीर जबरन वसूली मामला : ठाणे पुलिस ने मुंबई पुलिस से ली दो आरोपियों की हिरासत

August 8th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पूर्व पुुलिस आयुक्त परमबीर सिंह से जुड़े जबरन वसूली के मामले में गिरफ्तार दो आरोपियों सुनील जैन और संजय पुनमिया को अब ठाणे पुुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ में जुट गई है। दोनों को पहले मुंबई के मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में दर्ज जबरन वसूली के मामले में गिरफ्तार किया गया था। ठाणे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ठाणे के कोपरी पुलिस स्टेशन में दर्ज जबरन वसूली के मामले में दोनों को गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में एक बिल्डर के रिश्तेदार ने शिकायत की थी कि उसे अर्बन लैंड सीलिंग (यूएलसी) के मामले में फंसाकर आरोपियों ने जबरन करीब पांच करोड़ रुपए वसूले थे। यह कार्रवाई साल 2018 में की गई थी जब सिंह ठाणे के पुलिस कमिश्नर थे। मामले में सिंह के साथ ठाणे अपराध शाखा के तत्कालीन डीसीपी पराग मानेरे, मनोज घोटेकर, जैन और पुनमिया के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

ठाणे पुलिस ने जैन और पुनमिया को शनिवार को हिरासत में लेकर ठाणे की एक कोर्ट में पेश किया जहां से दोनों को 12 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेेज दिया गया है। मामले में शिकायतकर्ता का दावा है कि उसके खिलाफ संगठित अपराध विरोधी कानून मकोका लगाने की धमकी देकर आरोपियों ने जबरन 4 करोड़ 68 लाख रुपए वसूले थे। इसके अलावा केतन तन्ना नाम के बिल्डर की शिकायत पर भी सिंह समेत 28 आरोपियों के खिलाफ जबरन वसूली के आरोप मेंं एफआईआर दर्ज की गई है।

इस मामले में पुलिस ने लुकआउट नोटिस जारी करने की भी प्रक्रिया शुरू कर दी है। बता दें कि एंटीलिया के बाहर विस्फोटक भरी कार मिलने और कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या का मामला सामने आने के बाद तत्कालीन मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह का तबादला कर दिया गया था।

इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ मुंबई के रेस्टारेंट और बारों से हर महीने 100 करोड़ रुपए की वसूली करने का आरोप लगाया था। इसके बाद सिंह के खिलाफ भी जबरन वसूली के तीन मामले दर्ज किए जा चुके हैं। उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो भी जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...