comScore

शरजील की गिरफ्तारी के लिए अब पाटील ने यूपी के सीएम योगी को लिखा पत्र

शरजील की गिरफ्तारी के लिए अब पाटील ने यूपी के सीएम योगी को लिखा पत्र

डिजिटल डेस्क, मुंबई। हिंदुओं के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने वाले शरजील उस्मानी के की गिरफ्तारी की मांग करते हुए भारतीय जनता पार्टी के महाराष्ट्र अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। पाटील ने लिखा है कि पुणे में आयोजित एल्गार परिषद में शरजील उस्मानी ने कहा था कि आज का हिंदू समाज सड़ चुका है। उसने संविधान विरोधी भाषण के जरिए लोगों को भड़काया जिससे महाराष्ट्र समेत पूरे देश के हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंची है। 

पाटील ने पत्र में आगे लिखा है कि शरजील उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के सिधारी इलाके का मूल निवासी है। देश, समाज और धर्म विरोधी बयान को पांच दिन बीत गए हैं। महाराष्ट्र के साढ़े 12 करोड़ लोगों को इस बात की उम्मीद नहीं है कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार शरजील के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। शरजील के बयान से पूरे देश और प्रदेश की जनता गुस्से में है इसलिए उसके खिलाफ उत्तर प्रदेश में एफआईआर दर्ज कर उसे शीघ्र गिरफ्तार करने का आदेश दें। पाटील ने कहा कि यह केस मिसाल बनना चाहिए जिससे आगे कोई ऐसे शब्दों के इस्तेमाल की हिम्मत न जुटा पाए।

शिवसेना का पलटवार

दूसरी ओर पाटील के इस पत्र पर शिवसेना प्रवक्ता तथा प्रदेश के जलापूर्ति व स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटील ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ छत्रपति शिवाजी महाराज को समझ नहीं पाए, तो मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को क्या समझेंगे? पाटील ने कहा कि मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को कहिए कि शिवाजी महाराज की पूजा करते समय पैर में चप्पल नहीं पहना जाता। पहले वे चप्पल पहनना सीखें। फिर उद्धव को बताएं। पाटील ने कहा कि कोई हिंदू को गाली देगा तो हम सहन नहीं करेंगे। शिवसेना ने हिंदुत्व को नहीं छोड़ा है। शिवसेना का कांग्रेस और राकांपा से गठबंधन हुआ तो हमने अपने माथे पर तिलक लगाना बंद नहीं किया है। उल्लेखनीय है कि मई 2018 में आदित्यनाथ ने महाराष्ट्र के पालघर में दौरे के समय शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते समय चप्पल पहना था।

उस्मानी को तलाश रही पुलिस-देशमुख

राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने इस मुद्दे पर कहा कि 30 जनवरी को पुणे में हुए एल्गार परिषद में शरजील उस्मानी के बयान से जुड़े वीडियो की जांच की गई है। इसके बाद उसके खिलाफ पुणे में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। फिलहाल वह महाराष्ट्र में नहीं है। उसकी तलाश के लिए विशेष टीमें बनाई गईं हैं। जो उत्तर प्रदेश, बिहार, गुजरात में उसकी तलाश करेंगी। 

पुणे में दर्ज हुई एफआईआर

भड़काऊ भाषण के मामले में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र नेता शरजील उस्मानी के खिलाफ पुण के स्वारगेट पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। उस्मानी के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 (ए) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। भाजपा युवा मोर्चा के नेता प्रदीप गावडे की शिकायत पर यह एफआईआर दर्ज की गई है। शरजील पर आरोप है कि उसने हिंदू समाज के खिलाफ आपत्तिजनक बात कही है।  

कमेंट करें
LrdMW