comScore

दुरंतो एक्सप्रेस में नहीं मिलते स्थायी डॉक्टर,अचानक तबीयत बिगड़ने पर परेशानी

दुरंतो एक्सप्रेस में नहीं मिलते स्थायी डॉक्टर,अचानक तबीयत बिगड़ने पर परेशानी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  मध्य रेल नागपुर मंडल की ओर से नागपुर और मुंबई के बीच चलाई जाने वाली दुरंतो एक्सप्रेस महत्वपूर्ण ट्रेनों में से एक है। इसे नागपुर मंडल की शान भी कहा जाता है। अन्य ट्रेनों की तुलना में दुरंतो को यात्रियों ज्यादा प्रतिसाद मिलता है। इसकी हर श्रेणी में प्रतीक्षा सूची रहती है। जब दुरंतो की शुरुआत हुई थी तो इस ट्रेन में यात्रियों की सहायता के लिए डॉक्टर अपॉइंट किया गया था। यह डॉक्टर दुरंतो में पूरी यात्रा में रहता था। कुछ समय बाद डॉक्टर को हटा दिया गया।

सामने आ चुकी है घटना
अन्य ट्रेन नागपुर से मुंबई तक की यात्रा 14-15 घंटे में तय करती है, लेकिन नागपुर और मुंबई के बीच चलाई जाने वाली 12289 और 12290  दुरंतो एक्सप्रेस यह यात्रा 11 घंटे में तय करती है। इसके साथ ही यह सबसे सुविधाजनक ट्रेन है। इसमें पहले डॉक्टर भी रहता था, जो ट्रेन में होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्या के समाधान के लिए अपॉइंट था। इससे ट्रेन को डॉक्टर कॉल के लिए  किसी स्टेशन पर ज्यादा देर रोकना नहीं पड़ता था, लेकिन बाद में डॉक्टर को हटा दिया गया। पिछले दिनों दुरंतो का परिचालन अजनी से किया गया। जिसमें अजनी से मुंबई यात्रा करने वाले एक यात्री को हार्ट अटैक आया। स्टेशन और ट्रेन में डॉक्टर की सुविधा नहीं होने के कारण उसका उपचार माैके पर नहीं हुआ। बाद में सतर्कता दिखाते हुए परिजनों ने उसे ऑरेंज सिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। इस तरह की समस्याओं के लिए डॉक्टर आवश्यक है। 

2 साल तक रखा गया
शुरुआत में डॉक्टर अपॉइंट था, जो 2 साल तक रखा गया। डॉक्टर का ज्यादा उपयोग नहीं होने के कारण उसे हटा दिया गया।
- एस. जी. राव, सहायक वाणिज्य प्रबंधक, मध्य रेलवे, नागपुर
 

कमेंट करें
93wZX