दैनिक भास्कर हिंदी: एसपी के बंगले से चंदन पेड़ चोरी करने वालों को 48 घंटे में जालना से पकड़ा

September 8th, 2018

डिजिटल डेस्क, यवतमाल। जिला पुलिस अधीक्षक के बंगले से चंदन का पेड़ चोरी करने वाले दो आरोपियों को जालना से गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि जिला पुलिस अधीक्षक के बंगले पर 24 घंटे पुलिस का पहरा रहता है। इसके बावजूद उनके बंगले से 2  चंदन के पेड़ दो दिन पूर्व चोरी हो गए थे। दो दिन पहले घटी घटना को बारे  में गोपनीयता बरती गई। शहर पुलिस ने आरोपियों को साइबर विश्लेषण की मदद से 48 घंटे के भीतर जालना से गिरफ्तार किया है। आरोपियों के नाम राजू शेख और इमरान खान कठोरा जालना निवासी है।

दोनों आरोपी 4 सितम्बर की रात एसपी के बंगले की पीछे की दीवार फांदकर चंदन के पेड़ तक पहुंचे थे। जहां इन दोनों ने अंधेरा का लाभ उठाकर आरी की सहायता से 2 चंदन के पेड़ काटकर  साथ ले गए। इसके दूसरे ही दिन इस बात का पता खुद एसपी को चला। उन्होंने गेट पर तैनात पुलिस गार्ड को बुलाकर इस बारे में पूछताछ की तो सामने के  गेट से कोई नहीं आने की जानकारी दी गई, लेकिन दो पेड़ के ठूंठ दिखाई दे रहे थे शेष पेड़ गायब था। जांच करने पर इन दोनों आरोपियों के नाम सामने आए। ये दोनों शातिर चंदन चोर होने की बात भी सामने आयी है। 

उल्लेखनीय है कि एसपी के बंगले को चारों ओर से पक्की दीवार का कम्पाउंड बना है। इसके बावजूद आरोपी चंदन के पेड़ काटकर ले गए। जिस ओर से ये चंदन के पेड़ चोरी कर लेकर गए उधर पुलिस हेलिपेड ग्राउंड और पुलिस कर्मचारियों की कालोनी आदि है। इसके चलते इस चोरी की चर्चा हो रही है। जिलाधिकारी कार्यालय व अन्य सरकारी कार्यालयों में चंदन के पेड़ लगाए गए हैं।  उन पेड़ों पर भी चंदन चोरों की नजर है।  

साइबर विश्लेषण की सहायता से पकड़े गए आरोपी
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एसपी के बंगले में चंदन के पेड़ काटकर चोरी करने के मामले के आरोपी साइबर क्राइम के विश्लेषण के कारण मिल पाए हैं। उसी के आधार पर पुलिस जालना तक उनके पीछे पहुंची थी। इन दोनों आरोपियों ने सतर्क होकर इस चोरी को अंजाम दिया। फिर भी पाए गए सुराग के आधार पर साइबर विश्लेषण ने आरोपियों को पकडऩे में सहायता की। यही कारण है कि 48 घंटों में यवतमाल पुलिस आरोपियों तक पहुंच गई।