comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

लोहे की रॉड से एटीएम फोड़नेवाले दो आरोपियों को पुलिस ने दबोचा

लोहे की रॉड से एटीएम फोड़नेवाले दो आरोपियों को पुलिस ने दबोचा

डिजिटल डेस्क, अमरावती । चांदुर बाजार थाना क्षेत्र के बेलोरा टी प्वाइंट स्थित महाराष्ट्र बैंक और बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम फोड़ने वाले आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।  नकाबपोश आरोपियों ने लोहे की रॉड से  पहले एटीएम की तोड़ा और रकम चुराई। इस बीच गश्त लगा रही अपराध शाखा पुलिस को एटीएम फोड़ने वाले दो आरोपी दिखाई दिए। पुलिस ने आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर डेढ़ लाख रुपए का माल बरामद किया। 

जानकारी के अनुसार चांदुर बाजार के दो एटीएम फोड़ने की घटना प्रकाश में आने के बाद अपराध शाखा पुलिस का दल तुरंत आरोपियों की तलाश में जुट गया। पुलिस ने एटीएम में लगे सीसीटीवी फुटेज की मदद से महेश मानापुरे और दिगांबर लांडगे नामक आरोपियों को गिरफ्तार कर 53  हजार रुपए नगद, लोहे की टॉमी, एक दुपहिया सहित डेढ़ लाख रुपए का माल बरामद किया। आरोपियों ने एटीएम मशीन को लोहे की रॉड से बुरी तरह तोड़कर एटीएम बॉक्स में रखी रकम चुरा ली थी। पुलिस ने चंद घंटों में ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर नगदी जब्त की। यह कार्रवाई पुलिस अधीक्षक हरिबालाजी एन, अपर पुलिस अधीक्षक श्याम घुगे के मार्गदर्शन में अपराध शाखा के निरीक्षक सुनील किंगे, निरीक्षक संजय सोलंके, सहायक निरीक्षक मुकुंद कवाडे, नरेंद्र पेंदोर, केशव ठाकरे, हेमंत चौधरी, आशीष चौधरी, मूलचंद भांबुरकर, गणेश मांडवकर, वासुदेव नागलकर, मनोहरे, सुनील तिड़के, शेख शक्कुर, लक्ष्मीकांत देशमुख, राजेंद्र, अरविंद लोहकरे, गजेंद्र ठाकरे, योगेश सांबारे, प्रवीण अंबाडकर, युवराज मानमुठे, अमित वानखडे, रितेश तेलगोटे, दिनेश कनोजिया, अमोल केंद्रे, मनोज शेंडे, वैभव देशमुख, किरण गावंडे, होमगार्ड अण्णा मेश्राम ने की। 

बैंक  में सेंध लगाकर डिजिटल सामग्री चुराई

तिवसा घाट सड़क पर स्थित अमरावती जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक के इमारत की दीवार तोड़कर अज्ञात आरोपियों ने भीतर रखे दो लैपटॉप, सीसीटीवी डीवीआर आदि डिजिटल सामग्री पर हाथ साफ किया। कितु बैंक की 7 लाख रुपए रखी हुई तिजोरी के साथ छेड़छाड़ नहीं होने से कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। शेंदुरजनाघाट में जिला मध्यवर्ती बैंक की शाखा में व्यवस्थापक सुबह के समय पहुंचे। उसी समय दीवार तोड़े जाने का मामला प्रकाश में आया। विगत दो दिनों से अवकाश रहने से कोई भी अधिकारी अथवा कर्मचारी बैंक में नहीं पहुंचे थे। जिसका फायदा उठाते हुए अज्ञात चोरों ने मध्यरात्रि के दौरान बैंक की दीवार फोड़कर भीतर प्रवेश किया। और लैपटॉप समेत सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर चुराकर ले गए। तिजोरी में रखी गई रकम सुरक्षित है।  अज्ञात चोरों द्वारा लैपटॉप व डीवीआर उड़ाने  से कई प्रकार के सवाल उठाए जा रहे हैं। घटना की शिकायत शेंदुरजनाघाट थाने में दी गई। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ  मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। 
 

कमेंट करें
XumAR
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।