दैनिक भास्कर हिंदी: इलेक्ट्रानिक्स दुकान से पुलिस ने जब्त किया हुक्के का जखीरा

March 1st, 2019

डिजिटल डेस्क, अमरावती। लोकल क्राइम ब्रांच ने  जवाहर गेट स्थित आशीष इलेक्ट्रानिक्स में छापा मारकर 11 हजार रुपए की 55 इलेक्ट्रानिक्स हुक्का जब्त कर आशीष झांबानी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

उल्लेखनीय है कि पुलिस की सख्ती के बावजूद हुक्का पार्लर बड़े पैमाने पर चलाये जा रहे हैं। इलेक्ट्रानिक्स हुक्के की बिक्री शहर में होती देखी गई है। कुछ विद्यार्थियों के स्कूल बैग में हुक्का पाए जाने के बाद अपराध शाखा पुलिस को मिली शिकायत के आधार पर पुलिस ने  जवाहर गेट स्थित आशीष झांबानी की दुकान पर छापामार कार्रवाई की। यहां से पुलिस को 55  इलेक्ट्रानिक्स हुक्का पेन पाए गए जो कि मुंबई से लाए गए थे। इस इलेक्ट्रानिक्स हुक्के को मोबाइल की तरह चार्जिंग किया जाता है। जिसमें विविध फ्लेवर में लिक्वीड का इस्तेमाल कर नशा किया जाता है। इस इलेक्ट्रानिक्स हुक्का के बाजार में दाम 150  रूपए से 1000  रुपए है। इसके अलावा शहर के विविध दुकानों में यह इलेक्ट्रानिक्स हुक्का पहुंचाया गया है। जिससे युवा पीढ़ी के स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ सकता है। जबकि शहर के कई नामांकित दुकानों पर खुलेआम हुक्का पॉट, क्वाईल, फ्लेवर, मसाला सहित आदि सामग्री की बिक्री की जा रही है। कार्रवाई पुलिस निरीक्षक कैलाश पुंडकर के मार्गदर्शन में पुलिस उपनिरीक्षक आशीष देशमुख, अरूण कोडापे, जावेद अहमद, सुधीर गुडधे, नीलेश पाटिल, एजाज शाह, गजानन सातंगे ने की है। 

विधायक के निकटतम कार्यकर्ता की प्रेमिका ने की आत्महत्या की कोशिश 
एक विधायक के निकटतम कार्यकर्ता की 26 वर्षीय प्रेमिका द्वारा अपने निवासस्थान पर आत्महत्या करने का प्रयास करने के मामले में अभी तक पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया है। युवती की हालत अभी स्थिर बताई जाती है। गौरतलब है कि अकोली परिसर निवासी एक युवती के वर्तमान विधायक के निकटतम कार्यकर्ता के साथ प्रेमसंबंध थे। युवती का प्रेमी विवाहित है। इस कारण प्रेमी की पत्नी व प्रेमिका के बीच पिछले छह माह से विवाद जारी था। युवती और उसके प्रेमी की पत्नी के बीच हुआ विवाद  पुलिस थाने तक पहुंचा था, लेकिन पुलिस ने आखिर में केवल अदखलपात्र मामला दर्ज कर उसे निपटाने का प्रयास किया। कथित प्रेमिका ने टाइफाइड की 15 गोलियां खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। उसके घर से मिले सुसाइड नोट के बावजूद राजापेठ पुलिस ने अभी तक इस प्रकरण में किसी की शिकायत न आने का कारण बताकर मामला दर्ज नहीं किया है। युवती शहर के निजी अस्पताल में भर्ती है। उसकी हालत अभी भी स्थिर बताई जाती है।