दैनिक भास्कर हिंदी: पालघर साधु हत्याकांड पर सियासत, पहली बरसी पर मुंबई में जुटेंगे देशभर के साधु-संत

March 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पिछले साल पालघर जिले में हुई साधुओं की हत्या मामले को लेकर संत समाज ने राज्य की ठाकरे सरकार को जोरदार आंदोलन शुरु करने की चेतावनी दी है। शनिवार को मुंबई दौरे पर आए आनंद गिरी महाराज ने कहा कि अगले माह पालघर में साधुओं की हुई हत्या को एक साल हो जाएंगे पर महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार इस मामले में न्याय नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि मामले के आरोपी आज भी खुलेआम घूम रहे और शराब पार्टी कर रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाए कि आखिर सभी आरोपियों को इतनी जल्द जमानत पर कैसे रिहा कर दिया गया। 

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि पालघर में हुई संतों की हत्या मामले में राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार आरोपियों को बचाने में जुटी है। आनंद गिरी महाराज ने कहा कि सरकार ने न्यायालय में मजबूती से अपना पक्ष नहीं रख सकी जिससे चलते आरोपियों को जमानत मिल गई। वे जेल से छूटने के बाद जश्न मना रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार से मेरा सवाल है कि आरोपियों पर 120 बी, 427, 147, 302,148 और 149 जैसे गंभीर धारा लगने के बाद उन्हें कैसे जमानत मिल गई। इस पूरे मामले में जांच कर रहे डीसीपी विजय पवार पर सवाल उठाते हुए आनंद गिरी ने कहा कि सरकार के दबाव में उन्हों ने निष्पक्ष जांच नहीं कि जिसके कारण मामले में सभी 115 आरोपियों को न्यायालय ने जमानत दे दी है।

जांच से असंतुष्ट पूरे मामले की जांच एसआईटी या सीबीआई से कराने की मांग करते हुए महराज ने कहा कि राज्य की उध्दव ठाकरे सरकार पालघर जिले हुए साधुओं की निर्मम हत्या को लेकर गंभीर नहीं है। उन्होंने कहा कि आगामी 14 अप्रैल को हरिद्वार में शाही स्नान है। जिसमे पूरे देश से साधु -संत इकट्ठा होने वाले हैं। इस दौरान वहां पर पालघर जिले में साधुओ की हुई निर्मम हत्या मामले को लेकर उध्दव ठाकरे सरकार से समाज को न्याय न मिलने के बाद आंदोलन का प्रस्ताव पारित किया जाएगा। राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि आगामी 16 अप्रैल को साधुओं की हत्या को एक साल पूरा होने जा रहा है। यदि इसके पहले महाराष्ट्र सरकार ने आरोपियों के खिलाफ कोई कड़ा कदम नहीं उठाया तो देशभर के साधु-संत मुंबई पहुंच कर उध्दव ठाकरे सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे। 

मालवणी से रोका जाए हिन्दूओं की पलायन  

महाराज ने कहा कि मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र मालवणी से हिन्दू समाज लगातार पलायन कर रहा है पर राज्य की ठाकरे सरकार कुछ नहीं कर पा रही है। उन्होंकने मामले को गंभीर बताते हुए कहा कि राज्य की महाविकास आघाडी सरकार की लापरवाही और हिन्दू समाज के प्रति असंवेदनशीलता के कारण मुंबई के मालवणी इलाके से हिन्दू समाज पलायन करने पर मजबूर हैं। लेकिन मैं समाज को आश्वस्त करता हूं कि इस मुद्दे को हमजोर-शोर से उठाएंगे और पलायन कर रहे हिंदू समाज को रोकने की पूरी कोशिश करेंगे।