comScore

ठंड के सीजन में भी आसमान छू रहे सब्जियों के दाम , 60 से 185% महंगी

ठंड के सीजन में भी आसमान छू रहे सब्जियों के दाम , 60 से 185% महंगी

डिजिटल डेस्क, नागपुर । आमतौर पर ठंड के सीजन में हरी सब्जियां साल के सबसे कम दामों पर बिकती हैं, लेकिन इस बार हालात एकदम अलग हैं। नवंबर माह में सब्जियां गर्मियों के सीजन से भी ज्यादा महंगी मिल रही हैं। खास बात ये कि सब्जियों के थोक और फुटकर दामों में भारी अंतर है। यानी किसान से सब्जी कम दाम में खरीदकर लोगों से ज्यादा दाम वसूले जा रहे हैं। गुरुवार को कलमना मंडी के थोक बाजार में प्याज 35 रुपए किलो नीलाम हुई। इसी तरह आलू के फुटकर दाम थोक बाजार के मुकाबले 50% तक ज्यादा हैं। अधिकांश हरी सब्जियां 40 रुपए से 60 रुपए किलो के बीच मिल रही हैं। इन सभी सब्जियों में किसानों काे महज 10-12 रुपए किलो ही मिल रहे हैं। शेष सारा पैसा आढ़तिये और बिचौलियों की जेबों में जा रहा है।

पिछले साल 15 रुपए किलो थी प्याज
पिछले साल नवंबर माह के पहले हफ्ते में प्याज, आलू और टमाटर सहित सभी हरी सब्जियां फुटकर बाजारों में ही 15 से 25 रुपए किलो के आसपास थी। प्याज तो महज 15 रुपए किलो थी। टमाटर 10-12 रुपए, भिंडी 25 रुपए, लौकी 10 रुपए और हरी मिर्ची 30 से 35 रुपए किलो ही बिक रही थी। इस साल तो इनकी कीमतों में कुछ ज्यादा ही अंतर है। थोक बाजार से घरों तक तक पहुंचते-पहुंचते दो से तीन गुना दाम बढ़ जाते हैं। 

अगले एक माह तक रहेगी ऐसी स्थिति
सब्जी विक्रेता सुधीर ने बताया कि इस साल प्रदेश में हुई ज्यादा बारिश के कारण सब्जियां खराब हुई हैं। नई फसल आने में अभी समय लग रहा है। उम्मीद थी कि अक्टूबर अंत में नाशिक और इससे आसपास से प्याज सहित अन्य सब्जियों की आवक शुरू हो जाएगी। लेकिन दिवाली के दौरान हुई बारिश से गड़बड़ हो गई। अब करीब एक माह तक बाजार में सभी सब्जियों की परेशानी बनी रहेगी।

सरकार को पता ही नहीं बिचौलिए किस कदर हावी
महंगाई दर को नियंत्रित रखना सरकार के लिए जरूरी है। आरबीआई ब्याज दरों में कटौती का फैसला इसी आधार पर लेता है। इसलिए सरकार छोटे मार्केट तक जाकर कीमतों का विश्लेषण करती है, लेकिन उपराजधानी में तस्वीर बिल्कुल उलटी है। यानी सरकार को ठीक से पता नहीं है कि बिचौलिये किस कदर हावी हैं। 
डॉ. आरएस तिवारी, अर्थशास्त्री
 

 सब्जियां    थोक      चिल्लर    दाम में वृद्धि
 प्याज     35         70          100%
आलू     16       20-25        185%
टमाटर     25       40           60%
भिंडी     30        50         80%
बैगन     15        40        166%
लौकी     15       40        166%
हरी मिर्ची     30      60      100%
 

कमेंट करें
CZKvq