दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र कांग्रेस के लिए जारी सर्कुलर से राहुल का नाम गायब  

June 14th, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी का इस्तीफा और कांग्रेस कार्यसमिति द्वारा उनका इस्तीफा अस्वीकार किए जाने के बीच पार्टी में भ्रम की स्थिति कायम है। भ्रम की स्थिति का अंदाजा इसी बात से भी लग जाता है कि शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा और विधान परिषद में पार्टी नेताओं की नियुक्ति को लेकर जारी प्रेस बयान से राहुल गांधी का नाम नदारद है। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के मद्देनजर पार्टी अध्यक्ष पद से राहुल के इस्तीफे के बाद संभवत: यह पहला मौका है जब पार्टी नेतृत्व की ओर से जारी नियुक्ति संबंधी विज्ञप्ति में राहुल गांधी का नाम नहीं है। जबकि इसके पहले राहुल गांधी की स्वीकृति से ही पार्टी में किसी की नियुक्ति होती थी।

महाराष्ट्र के संबंध में आज जारी बयान में कहा गया है कि इन नियुक्तियों को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने स्वीकृति दी है। इसका मतलब यह है कि राहुल गांधी अध्यक्ष पद से दिए अपने इस्तीफे पर अड़े हुए हैं। राहुल इस वक्त पार्टी नेताओं से खुलकर मिल भी नहीं रहे हैं। लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जब कांग्रेस कार्यसमिति ने राहुल का इस्तीफा अस्वीकार कर दिया है तब नियुक्ति वाले बयान से राहुल का नाम गायब क्यों है। पार्टी के एक नेता ने कहा कि यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि राहुल को लेकर पार्टी में अभी भ्रम की स्थिति कायम है। 

कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने यहां जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि बाला साहेब थोराट महाराष्ट्र विधानसभा में पार्टी विधायक दल के नेता होंगे तो शरद रणपिसे को विधान परिषद में पार्टी का नेता नियुक्त किया गया है।