हनुमान चालीसा विवाद : मिली जमानत को रद्द करने के मामले में राणा दंपति मुंबई की विशेष अदालत हुए हाजिर

June 15th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा के पाठ की घोषणा को लेकर विवादों में आयी अमरावती निर्दलयी सांसद नवनीत कौर कौर व विधायक रवि राणा बुधवार को मुंबई की विशेष अदालत में हाजिर हुए। कोर्ट में राणा दंपति को इस मामले में मिली जमानत को रद्द करने को लेकर पुलिस की ओर से दायर आवदेन पर सुनवाई चल रही है। राणा दंपति को इस मामले में मुंबई पुलिस ने 23 अप्रैल 2022 को गिरफ्तार किया था। पहले इस प्रकरण में पुलिस ने राणा दंपति पर दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने के आरोप में मामला दर्ज किया था लेकिन बाद पुलिस ने राणा दंपति पर राजद्रोह का आरोप लगाया था। पांच मई 2020 को विशेष न्यायाधीश आरएन रोकड़े ने इस मामले में राणा दंपति को सशर्त जमानत प्रदान की थी। जमानत आदेश में न्यायाधीश ने कहा था कि राणा दंपति अपने इस कृत्य को दोबारा न दोहराए और मामले को लेकर मीडिया में कोई बयान न दे। यदि वे जमानत की शर्तों का उल्लंघन करेंगे को उनकी जमानत रद्द हो जाएगी। इस बीच पुलिस ने जमानत शर्तों की उल्लंघन का दावा करते हुए नौ मई को राणा दंपति की जमानत रद्द करने की मांग को लेकर कोर्ट में आवेदन दायर किया था। इस आवेदन के जवाब में दायर हलफनामे में राणा दंपति ने पुलिस के आरोपों का खंडन किया था और कहा था कि पुलिस के आवेदन में ऐसा कोर्ई ठोस कारण नहीं है जिसके आधार पर उनके जमानत आवेदन को रद्द किया जाए। बुधवार को मामले की सुनवाई के दौरान राणा दंपति कोर्ट में हाजिर हुए किंतु न्यायाधीश ने मामले की सुनवाई 27 जून तक के लिए स्थगित कर दी। 

 

खबरें और भी हैं...