• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Retaliation on statement - Patil said, Sharad Pawar must have joined the power of the Center if he got the offer

बयान पर पलटवार : ऑफर मिलता को शरद पवार केंद्र की सत्ता में अवश्य शामिल होते

October 13th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भाजपा के साथ सत्ता में शामिल होने के ऑफर संबंधी राकांपा अध्यक्ष शरद पवार के बयान पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा है कि अगर कोई ऑफर मिलता को पवार केंद्र की सत्ता में अवश्य शामिल होते। पाटील ने कहा-पवार व उनके शिष्य हर मामले में केंद्र सरकार की ओर उंगली दिखाने लगते हैं। कोयला कमी के मामले में भी केंद्र को ही जिम्मेदार ठहराया जाने लगता है। यह नाच न जाने आंगन टेढ़ा जैसी स्थिति है। पवार कच्चे गुरु के शिष्य नहीं हैं जो केंद्र की सत्ता के ऑफर को न स्वीकारें। देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री जैसे लगने संबंधी बयान पर पाटील ने कहा कि फडणवीस के बयान का अलग आशय लगाया जा रहा है। बुधवार को ओबीसी सम्मेलन के सिलसिले में शहर में आए पाटील पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। कांग्रेस में ओबीसी नेताओं की नाराजगी के विषय पर उन्होंने कहा कि कुछ पाने के लिए अक्सर इस तरह की नाराजगी सामने आती है। इस मामले में अलग से कुछ निष्कर्ष निकालने की आवश्यकता नहीं है। महिला सुरक्षा के मामले पर उन्होंने कहा कि देवेंद्र फडणवीस जब मुख्यमंत्री थे, तब राज्य में कानून व्यवस्था पर विराेधी सवाल उठाते थे। अपराध के बारे में भी फडणवीस पर सवाल उठाया जाता था।

अब पालकमंत्री नितीन राऊत नींद में हैं क्या। राज्य में महिलाओं से संबंधित अपराध बढ़ रहे हैं। देवेंद्र फडणवीस फील्ड पर रहते हैं इसलिए राज्य की जनता को वे मुख्यमंत्री जैसे लगते हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जनता को कोई अपेक्षा नहीं रह गई है। राज्य में भाजपा के नेतृत्व में सरकार बनने के मामले में फिलहाल कोई दावा करने की आवश्यकता नहीं है। मैं ज्योतिषी नहीं हूं। राकांपा की जनसंवाद यात्रा का मतलब नहीं है। लगता है राकांपा जनता के बीच जाकर बताना चाहती कि वह किसानों को कुछ नहीं देनेवाली है, बीमा भी नहीं देगी। 

खबरें और भी हैं...