दैनिक भास्कर हिंदी: नाना पटोले का दावा - मध्यप्रदेश और कर्नाटक सरकार गिराने में हुआ पेगासस का इस्तेमाल, अघाड़ी सरकार में बढ़ी खटास!

July 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले पटोले ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने इजराइल की कंपनी एनएसओ के पेगासस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल मध्यप्रदेश और कर्नाटक की कांग्रेस की सरकार गिराने के लिए किया था। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार जाजूसी के जरिए लोगों को ब्लैकमेल कर रही है। इसको तत्काल रोकने की जरूरत है। पटोले ने कहा कि पेगासस जासूसी मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज की अध्यक्षता में होनी चाहिए। इस मांग को लेकर कांग्रेस की ओर से गुरुवार को राजभवन के सामने धरना प्रदर्शन किया जाएगा। कांग्रेस राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी को ज्ञापन सौंपेगी। पटोले ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राज्य सरकार के सूचना व जनसंपर्क सूचना निदेशालय (डीजीआईपीआर) के अफसरों को इजराइल में भेजा था। राज्य सरकार को इस मामले की जांच करनी चाहिए। 

जरूरत पड़ी तो कुछ स्थानीय निकायों में सहयोगियों के साथ गठबंधन

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि महाराष्ट्र में पार्टी आगामी स्थानीय निकायों के चुनाव अपने दम पर लड़ेगी, यदि जरूरत पड़ी तो परिस्थिति के अनुसार कुछ स्थानीय निकायों में कांग्रेस सहयोगी शिवसेना और राकांपा के साथ गठबंधन कर सकती है। लेकिन मुझे नहीं लगता है कि कांग्रेस को शिवसेना और राकांपा के साथ गठजोड़ की जरूरत पड़ेगी। बुधवार को पटोले ने कहा कि राज्य में भाजपा को रोकने के लिए कांग्रेस ही एक विकल्प है। कांग्रेस अपने दम पर यह लड़ाई लड़ सकती है। पटोले ने कहा कि मंगलवार को दिल्ली में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्थानीय निकायों के चुनाव अकेले लड़ने का फैसला हुआ है। पटोले ने कहा कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के आदेश के अनुसार हमने अकेले चुनाव लड़ने के लिए रुपरेखा बनाना शुरू कर दिया है। 

अकेले चुनाव लड़ने पर जोर

पटोले के बयान साफ इशारा करते हैं महाराष्ट्र में अघाड़ी सरकार में आई दरार गहरा रही है। सूबे की सियासत जिन तीन दलों पर टिकी है, उनके सुर भी मिलते दिख नहीं रहे हैं। कांग्रेस ने सभी महापालिका और स्थानीय निकायों के चुनाव अकेले दम पर लड़ने का फैसला कर लिया है। प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने मंगलवार को दिल्ली में पार्टी नेता राहुल गांधी से मुलाकात के बाद ऐलान कर दिया है। उनके मुताबिक राहुल गांधी ने भी इस फैसले को हरी झंडी दिखाई है।

खबरें और भी हैं...