comScore

विश्व महिला दिवस पर जिले में होगा सबला सम्मेलन, 25 हजार से ज्यादा महिलाएं होगी शामिल

विश्व महिला दिवस पर जिले में होगा सबला सम्मेलन, 25 हजार से ज्यादा महिलाएं होगी शामिल

- मुख्यमंत्री कमलनाथ करेंगे सम्मानित, सांसद नकुलनाथ भी रहेंगे शामिल- एसएएफ ग्राउंड में होगा आयोजन, प्रशासन कर रहा तैयारी
डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा
। विश्व महिला दिवस के अवसर पर आठ मार्च को सबला सम्मेलन आयोजित हो रहा है। एसएएफ ग्राउंड में यह आयोजन होगा। जिसमें 25 हजार से ज्यादा महिलाएं एकत्र होगी जहां अलग-अलग क्षेत्रों में अपनी पहचान बना चुकी महिलाओं को सम्मानित किया जाएगा। विश्व महिला दिवस के मौके पर छिंदवाड़ा में होने वाले इस कार्यक्रम में छह जिलों का वृहद समारोह आयोजित किया जाएगा। इस समारोह में मुख्यमंत्री कमलनाथ महिलाओं को सशक्त करने के लिए योजनाओं की शुरुआत करने के साथ ही महिलाओं का सम्मान करेंगे। महाकोशल और नर्मदा पुरम के छह जिलों की महिलाएं इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री कमलनाथ के अलावा सांसद नकुलनाथ सहित केबिनेट मंत्री भी उपस्थित रहेंगी। इस कार्यक्रम में आजीविका मिशन के विभिन्न स्व सहायता समूहों के क्रियाशील लगभग 25 हजार महिलाएं शामिल होगी। साथ ही इनके द्वारा किए जा रहे कार्यों को भी बताया जाएगा। छिंदवाड़ा सहित तीन अन्य जिले की स्व-सहायता समूह की महिलाएं भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगी।  वृहद स्तर पर होने वाले कार्यक्रम को लेकर जिला प्रशासन तैयारियों में जुट गया है। साथ ही बड़ी संख्या में महिलाओं की उपस्थिति को देखते हुए व्यापक स्तर पर तैयारी की जा रही है। अधिक संख्या होने के कारण जहां पहले पुलिस ग्राउंड में यह आयोजन प्रस्तावित था, जिसे बदलकर अब एसएएफ ग्राउंड कर दिया गया है। इस कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में ऐसी महिला नेत्रियां जिन्होंने कोई उत्कृष्ट कार्य किया गया है। उनको मुख्यमंत्री के हस्ते सम्मानित किया जाएगा।
सम्मेलन में यह होगा
इस सम्मेलन में ऐसे समूह जिनको बैंकों द्वारा के्रेडिट लिंक की सहायता राशि जारी की गई है, जिनके खाते खोले गए है, ऐसे समूह जिन्हें नाबार्ड बैंक द्वारा ई-शक्ति प्रोजेक्ट से जोड़कर लाभान्वित किया गया है , जिन्हें सामुदायिक निवेश निधि से लाभान्वित किया गया है। ऐसे समूहों को हितलाभों का वितरण किया जाएगा। इन अलग-अलग योजनाओं के लिए लगभग 21 करोड़ से अधिक की राशि की योजनाओं का वितरण महिला हितग्राहियों को किया जाएगा।
महिला स्व-सहायता समूहों साझा करेगी अनुभव
महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा अलग-अलग क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों और उनके अनुभव को साझा किया जाएगा। यहां पर वॉश प्रोडेक्ट, दोना पत्तल, आर्गेनिक खेती, सिलाई कार्य, वनोत्पादों, पशुपालन के साथ ही नवनिर्मित गौसेवा केन्द्रों और नर्सरी का संचालन कर रही है। वह अपने अनुभव साझा करेगी तांकि दूसरी अन्य महिलाएं भी इससे जुड़ सके। इसके लिए तकरीबन 28 स्टाल लगाए जा रहे है।
इनका कहना है
- सबला सम्मेलन की तैयारी की जा रही है। इसमें 25 हजार से अधिक महिलाएं शामिल होगी। एसएएफ ग्राउंड में वृहद स्तर पर यह कार्यक्रम हो रहा है।
- गजेन्द्र सिंह नागेश, सीईओ जिला पंचायत
 

कमेंट करें
aGtVW