दैनिक भास्कर हिंदी: मानधन के लिए रजिस्ट्रेशन कराए सरपंच-उप सरपंच - मुश्रीफ

June 25th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के जिन सरपंचों और उपसरपंचों ने कंप्यूटर प्रणाली में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है ग्राम विकास मंत्री हसन मुश्रीफ ने उन्हें प्रक्रिया जल्द पूरी करने को कहा है। साथ ही उन्होंने बताया कि पात्र एवं कार्यरत सरपंचों और उपसरपंचों को मानधन वितरित करने के लिए राज्य सरकार ने 111 करोड रुपए  दिए हैं। बता दें कि राज्य में ग्राम पंचायतों की कुल संख्या 27 हजार 658 है। मानधन प्रक्रिया के लिए कंप्यूटर के जरिए 25 हजार 639 सरपंचों और 25 हजार 467 उपसरपंचों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है। लेकिन 2 हजार 19 सरपंचों और 2 हजार 191 उपसरपंचों ने अभी यह प्रक्रिया पूरी नहीं की है। रजिस्ट्रेशन न कराने वाले सरपंचों और उपसरपंचों को मानधन भी नहीं दिया गया है।

रजिस्ट्रेशन प्रणाली के तहत अपने आधार कार्ड और बैंक खातों से जुड़ी जानकारी देना जरूरी है। फिलहाल रजिस्ट्रेशन करा चुके 3814 सरपंचों और 4287 उप सरपंचों को भी मानधन नहीं मिला है। मुश्रीफ ने सभी जिला परिषदों को 21 जुलाई तक बकाया मानधन देने के निर्देश दिए हैं। कंप्यूटर प्रणाली से रजिस्ट्रेशन के बाद मानधन सीधे सरपंच और उपसरपंचों के खाते में भेज दिए जाते हैं। संबंधित ग्राम सेवक के जरिए लॉगिन कर गट विकास अधिकारी और उप मुख्य अधिकारी इसकी मान्यता देते हैं जिसके बाद राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान कार्यालय के जरिए मानधन अदा कर दिया जाता है।