आरोपी को हिरासत में लेने के बाद ही हुआ अंतिम संस्कार

District Mineral Fund is not being used in Gadchiroli!
गड़चिरोली में जिला खनिज निधि का नहीं हो रहा कोई उपयाेग!
सावरकर हत्याकांड आरोपी को हिरासत में लेने के बाद ही हुआ अंतिम संस्कार

डिजिटल डेस्क, यवतमाल. पुणे से गिरफ्तार कर लाए गए वैभव हत्याकांड के सभी सातों आरोपियों को मंगलवार को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से इन आरोपियों को 24 सितंबर तक की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया। यह आरोपी वैभव की हत्या कर पांच महीने से फरार चल रहे थे। सोमवार को आरोपियों को पुणे से गिरफ्तार किया गया था। आरोपियों में यवतमाल के पाटीपुरा निवासी शुभम वासनिक (26), बंटी उर्फ रत्नदीप पटाले (22), करण तिहाले (23), अर्जुन तिहाले (22), रोशन उर्फ डीजे नाईक (25), प्रथम रोकडे (21) और अभि कसारे (20) का समावेश है। बताया जाता है कि आरोपियों को वैभव के साथ पुराना विवाद था। जिसका निपटारा करने के बहाने 7 मई की शाम को उसे जयश्री चौक में बुलाया। इसके बाद योजना बनाकर आरोपियों ने उसकी निर्मम हत्या कर फरार हो गए थे। आरोपियों के 5 माह से फरार रहने के कारण पुलिस की जांच पर सवाल उठाए जा रहे थे। आरोपियों की खोज में आंध्रप्रदेश और मध्यप्रदेश जाकर जांच कर पुलिस बैरंग लौट आई थी। लेकिन इन लोगों के पुणे में होने की जानकारी मिलते ही उन्हंे रविवार को हिरासत में लिया गया 5 माह पूर्व हुए इस हत्या मामले की जांच और दोषियों पर अपराध से जुड़ी जानकारी जुटाना शहर पुलिस के सामने चुनौती थी। अब इस पीसीआर के बाद पुलिस को क्या जानकारी हाथ लगती है, इस ओर सभी की नजरें लगी हुई है। 

Created On :   21 Sep 2022 1:34 PM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story