दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई लोकल या लाइफ लाइन ट्रेन, ट्रांसप्लांट के लिए दूसरी अस्पातल पहुंचाया लिवर

February 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अक्सर शरीर से निकाले गए अंगो को एक अस्पताल से दूसरे अस्पतास तक पहुंचाने के लिए हवाई जहाज व ग्रीन कारिडोर (जहां वाहन के जाने में कोई रुकावट न हो) की मदद ली जाती है लेकिन मुंबई में एक ब्रेन डेड घोषित मरीज के अंगों को लोकल ट्रेन के माध्यम से जरुरतमंद तक पहुंचाया गया है। महानगर के ठाणे इलाके में स्थित ज्युपीटर अस्पताल से एक मरीज के लीवर को परेल स्थित ग्लोबल अस्पताल में लोकल ट्रेन से पहुंचाया गया था। इस मरीज को इलाज के दौरान ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया था। 

गौरतलब है कि जिस 53 वर्षीय मरीज के अंग को लोकल ट्रेन से परेल पहुंचाया गया है। उसने पहले ही अंगदान कर रखा था। दुर्घटना में घायल हुए इस शख्स के उसके दिल का आपरेश हो चुका था।  इसलिए उसके लिवर को आसानी से निकाल लिया गया और लोकल ट्रेन से परेल पहुंचा दिया गया। लीवर ठाणे से तीन बजकर चार मिनट को लोकल ट्रेन से रवाना हुअ और 3 बजकर 35 मिनट पर दादर पहुंच गया। इसके बाद स्टेशन के बाहर खड़ी एंबुलेंस ने कुछ मिनटों में लिवर को ग्लोबल अस्पताल पहुंचा दिया। 

खबरें और भी हैं...