comScore

ऑपरेशन के लिए मालिक के 8 लाख रुपए लेकर फरार हुआ था नौकर, पुलिस ने दबोचा

ऑपरेशन के लिए मालिक के 8 लाख रुपए लेकर फरार हुआ था नौकर, पुलिस ने दबोचा

डिजिटल डेस्क,  नागपुर।  सर, मुझे अपेंडिक्स हो गया था। डॉक्टरों ने ऑपरेशन कराने को कहा था। ऑपरेशन के लिए पैसे मेरे पास नहीं थे। मालिक ने आठ लाख रुपए का चेक कैश कराने को दिया था। वही कैश लेकर मैं चला गया। पुणे जाकर ऑपरेशन कराया। यह किसी फिल्म का डायलॉग नहीं है। हकीकत की घटना है। आठ लाख रुपए लेकर भागने के आरोपी एक  नौकर ने यह सब कबूला है।

लखनऊ से गिरफ्तारी
लखनऊ निवासी राजकुमार (53) नागपुर के गणेशपेठ क्षेत्र के होटल तैयबा में काम करता था।  चार-पांच माह काम करने के बाद संचालक अफजल का भरोसा जीत लिया। इसके बाद मालिक कैश से संबंधित काम भी राजकुमार से लेने लगे।  19 अगस्त 2018 को होटल संचालक ने साढ़े आठ लाख रुपए का चेक राजकुमार को दिया और एचडीएफसी जाकर कैश कराने को कहा। आरोप है कि बैंक से साढ़े आठ लाख रुपए कैश लेने के बाद राजकुमार होटल न जाकर भाग निकला। संचालक ने राजकुमार के खिलाफ गणेशपेठ थाने में प्रकरण दर्ज कराया। पुलिस छानबीन करती हुई लखनऊ स्थित राजकुमार के घर पहुंची और उसको गिरफ्तार किया। रविवार को नागपुर पुलिस उसे लेकर यहां आई। 

एग्जाम से बचने लड़के ने किया अपने तीन साल के भाई का अपहरण

पुलिस का कहना है कि पूछताछ में राजकुमार ने कबूल किया है कि वह कुछ महीनों से बीमार चल रहा था। वह अपेंडिक्स से पीड़ित है। डॉक्टरों ने ऑपरेशन की सलाह दी। इसके लिए उसके पास रुपए नहीं थे तो उसने इस घटना को अंजाम दिया।  रुपए लेकर वह पुणे गया। वहां निजी अस्पताल में अपना अपेंडिक्स का ऑपरेशन कराया। इसके बाद लखनऊ गया। शेष रकम से उसने पांच लाख रुपए का सोना, मोबाइल और घड़ी खरीदी। 40 हजार रुपए की नकदी समेत पुलिस ने पूरा माल जब्त कर लिया है। सोमवार की दोपहर को उसे अदालत में पेश कर 2 दिन के पीसीआर में लिया गया है। निरीक्षक एस.एस.कुमरे के मार्गदर्शन में निरीक्षक वी.आर.जाधव, सहायक निरीक्षक आर.एस.मुलानी, रहमत शेख, पंकज बोराटे, संतोष टेकाम, सुनील गुजर, चंदु ठाकरे और शरद चांभारे ने कार्रवाई की है। 
 

कमेंट करें
GbSgW