दैनिक भास्कर हिंदी: शिवसेना के चिंटू महाराज पर अवैध वसूली का मामला दर्ज, कारोबारी से मांगी रकम

August 27th, 2019

डिजिटल डेस्क,नागपुर। शिवसेना के उपजिला प्रमुख रवनीश पांडे उर्फ चिंटू महाराज सहित अन्य कार्यकर्ताओं पर अवैध वसूली करने के मामले में मौदा थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। रेत कारोबारी से कारोबार करने के लिए एक लाख रुपए मांगने का आरोप है। शिकायतकर्ता ट्रक मालिक राजेश वैरागड़े का आरोप है कि माथनी टोल नाके पर रेत के ट्रक को रोक कर अवैध वसूली की जा रही थी। वैरागड़े की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है। माथनी नाके पर हुई इस घटना से कुछ समय के लिए तनाव का माहौल बना रहा। 

रॉयल्टी की रसीद मांगी गई

पुलिस के अनुसार आरोपियों में रवनीश पांडे उर्फ चिंटू महाराज और 3-4 कार्यकर्ता हैं। रविवार और सोमवार की दरमियानी रात करीब 2 बजे दो कारों में सवार होकर चिंटू महाराज कार्यकर्ताओं के साथ नागपुर-भंडारा मार्ग स्थित माथनी टोल नाके पर पहुंचा और रेत से भरे टिप्पर क्र.-एम.एच.-36-ए.ए.-3020 को रोका। उसके बाद टिप्पर के चालक सुनील उरकुड़े से रेत के रॉयल्टी की रसीद मांगी गई। सुनील ने उन्हें रॉयल्टी नहीं होने की बात बताई,  जिससे टिप्पर को आगे नहीं जाने दिया गया। 

धंधा बंद करने की चेतावनी

सुनील ने अपने मालिक राजेश वैरागडे भंडारा निवासी को फोन कर मामले की जानकारी दी, जिससे राजेश भी मौके पर पहुंचा। राजेश को बताया गया कि टिप्पर में रेत क्षमता से ज्यादा भरी गई है और ले-देकर मामला रफा-दफा करने की बात कही गई। इसके लिए चिंटू महाराज ने राजेश से 1 लाख रुपए की मांग की। रुपए नहीं देने पर संबंधित आरटीओ को इसकी शिकायत करने की धमकी दी। इतना ही नहीं, उसका धंधा बंद कराने की भी चेतावनी दी।

रेत चोरी कर नहीं लाई

इस मामले में राजेश वैरागड़े का कहना है कि, उसने रेत चोरी कर नहीं लाई थी। इसकी रॉयल्टी रसीद भी उसके पास है, लेकिन चिंटू महाराज को रायल्टी की जांच-पड़ताल करने का अधिकार किसने दिया। यह सवाल राजेश ने पुलिस अधिकारियों से किया है। इसके बाद मामला थाने पहुंचा। प्रकरण की गंभीरता से चिंटू महाराज और उसके साथियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की जानकारी मौदा थाने के निरीक्षक गीते ने दी है। अभी तक प्रकरण में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। जांच जारी है। 
 

खबरें और भी हैं...