comScore

5 लाख की हफ्ता वसूली शिवसेना नेता गिरफ्तार

5 लाख की हफ्ता वसूली शिवसेना नेता गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। 5 लाख की हफ्ता वसूली के मामले में शिवसेना के पदाधिकारी संजोग राठोड़ काे पुलिस ने शनिवार को रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। मुख्य सूत्रधार युवा सेना के जिला प्रमुख विक्रम राठोड़ का नाम सामने आया है। संजोग व विक्रम सगे भाई हैं। विक्रम भूमिगत हो गया है। पता चला है कि ब्याज के कारोबारी को  राठोड़ बंधु ब्लैकमेल कर रहे थे। अवैध वसूली के आरोप में शिवसेना शहर प्रमुख मंगेश कड़व पहले ही पुलिस जांच के दायरे में है। 

फोन पर दे रहा था निर्देश 

सूत्रों के अनुसार करीब दस दिन पहले ब्याज कारोबारी को विक्रम व संजोग राठोड़ का फोन आया। उन्होंने ब्याज का लाइसेंस रद्द करवाने की धमकी देकर 15 लाख रुपए की मांग की। 8 लाख रुपए देना तय हुआ, जिसमें से 5 लाख रुपए शनिवार को देना था। 4.30 बजे मेडिकल चौक में रकम लेकर कारोबारी को बुलाया गया। विक्रम का फोन आते ही कारोबारी ने अजनी थाने पहुंच कर पुलिस को विक्रम द्वारा की जा रही ब्लैकमेलिंग की रिकार्डिंग सुनाई। उसके बाद थानाधिकारी संतोष खांडेकर ने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया। विक्रम के बताए अनुसार व्यवसायी कार से पांच लाख रुपए लेकर मेडिकल चौक पहुंचा। विक्रम पकड़े जाने के डर से जगह बदल कर व्यवसायी को तुकड़ोजी चौक की तरफ जाने वाले मार्ग पर शांति निकेतन स्कूल के पास बुलाया। विक्रम ने फोन पर व्यवसायी की कार का नंबर पूछा और नंबर संजोग को दिया, क्योंकि रकम देने के लिए संजोग को ही भेजा गया था।

कार में बैठी थी पुलिस

जैसे ही संजोग रकम लेने के लिए कार में बैठा, वैसे ही कार में सादे लिबास में बैठी पुलिस ने उसे दबोच लिया। खुद को पुलिस की  गिरफ्त में देखकर संजोग के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगी थीं। संजोग का दोपहिया वाहन क्र.एमएच 49 बीएफ 533 भी जब्त किया गया है। संजोग दक्षिण नागपुर विधान सभा क्षेत्र का विभाग प्रमुख है, जबकि विक्रम शिवसेना के ही युवा इकाई का जिला प्रमुख है।

मोबाइल और रिकार्डिंग जब्त

संजोग को पकड़ने के बाद विक्रम की तलाश में पुलिस उसके अध्यापक नगर स्थित घर गई, लेकिन पुलिस पहुंचने के पहले ही विक्रम भूमिगत हो गया। देर रात तक उसकी तलाश जारी थी। निरीक्षक संतोष खांडेकर ने बताया कि घटना के सूत्रधार के तौर पर विक्रम का नाम सामने आया है, जिससे उसके खिलाफ भी प्रकरण दर्ज िकया जा रहा है। संजोग का मोबाइल और कारोबारी से हुई बातचीत की रिकार्डिंग पुलिस ने जब्त की है। 

कमेंट करें
FcCNU