comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मी टू मुहिम को झटका : नाना पाटेकर के खिलाफ नहीं मिले सबूत


डिजिटल डेस्क, मुंबई। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने मी टू मुहिम के तहत अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था, लेकिन इस मामले में पुलिस को पाटेकर के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं। मामले की छानबीन कर रही ओशिवारा पुलिस ने इस मामले में अंधेरी कोर्ट में बी समरी रिपोर्ट फाइल कर दी है। इसका मतलब यह हुआ कि पुलिस के पास आरोपी के खिलाफ कोई सबूत या गवाह नहीं है जिससे मामले में आरोपपत्र दाखिल कर मुकदमा चलाया जा सके। वहीं इस खुलासे से नाराज अभिनेत्री तनुश्री ने मुंबई पुलिस को भ्रष्ट बताया है। इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए तनुश्री दत्ता ने मुंबई पुलिस पर निशाना साधा है। अभिनेत्री ने बयान जारी कर कहा कि भ्रष्ट पुलिस और न्यायपालिका ज्यादा भ्रष्ट नाना को क्लीनचिट दे रही है जिस पर पहले भी फिल्म इंडस्ट्री की महिलाओं से बदसलूकी के आरोप लगते रहे हैं। हमारे गवाहों को धमकाकर चुप करा दिया गया और फर्जी गवाह आगे कर मामले को कमजोर किया गया। जब मेरे सभी गवाहों के बयान तक नहीं दर्ज किए गए हैं तो पुलिस को बी समरी रिपोर्ट फाइल करने की इतनी जल्दी क्या थी। मुझे कोई आश्चर्य नहीं है भारत में महिलाओं इसकी आदत होती है। 

फिल्म अभिनेत्रा तनुश्री दत्ता ने पाटेकर पर लगाया था आरोप

अगर बलात्कार के आरोपी आलोकनाथ को क्लीनचिट मिल जाती है और वे फिल्मी दुनिया में वापस आ जाते हैं तो उत्पीड़न का आरोप झेल रहे नाना पाटेकर के लिए बचने में ज्यादा मुश्किल नहीं होनी थी। लोगों को सबूत चाहिए को वे 10 साल पहले का फिल्म हार्न ओके प्लीज का वह वीडियो देखें जिसमें मेरी कार पर हमला हुआ था। तनुश्री ने कहा कि वे सोशल मीडिया के जरिए ऐसे लोगों के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगी जिससे वे दूसरी लड़कियों का उत्पीड़न करने से पहले सोचें। मुझे अब भी न्याय मिलने और जीत का भरोसा है। वहीं तनुश्री के वकील नितिन सातपुते ने कहा कि बी समरी रिपोर्ट फाइल करने से जुड़ी कोई जानकारी उन्हें ओशिवारा पुलिस स्टेशन की ओर से नहीं दी गई है। अगर पुलिस बी समरी रिपोर्ट फाइल करती है तो वह आखिरी नहीं होगी। हम अदालत में इसका विरोध करेंगे। शाइनी शेट्टी नाम के गवाह का अधूरा बयान दर्ज किया गया है। इसके अलावा हेयर ड्रेसर अलिजा, वसीम और मीर समेत 7 गवाहों के बयान तक नहीं दर्ज किए गए। पुलिस ने ऐसे लोगों के बयान दर्ज किए जिन्हें इस मामले में कुछ नहीं पता था। सातपुते ने कहा कि वे इस मामले में बांबे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। बता दें कि इस मामले में ओशिवारा पुलिस ने अभिनेत्री डेजी शाह समेत 12 से ज्यादा गवाहों के बयान दर्ज किए हैं लेकिन किसी ने आरोपों की पुष्टि नहीं की।  

क्या है मामला

अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने मीटू अभियान के तहत आरोप लगाया था कि साल 2008 में फिल्म हार्न ओके प्लीज के सेट पर अभिनेता नाना पाटेकर ने उनका उत्पीड़न किया था। अभिनेत्री का आरोप था कि गाने की शूटिंग के दौरान नाना उसके करीब आने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने विरोध किया तो कोरियोग्राफर गणेश आचार्य, निर्माता सामी सिद्दीकी और निर्देशक राकेश सारंग ने भी उनका साथ नहीं दिया। मामले में ओशिवारा पुलिस ने आईपीसी की धारा 354, 509 के तहत महिला का उत्पीड़न करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की थी। हालांकि अब पुलिस का दावा है कि मामले में उसके पास कोई सबूत नहीं है।

कमेंट करें
3rsY2
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।