दैनिक भास्कर हिंदी: पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार के स्टार प्रचारक : भाजपा के महाराष्ट्र से केवल गडकरी, कांग्रेस से मल्लिकार्जुन खड़गे

March 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। देश में चुनाव की बात करें तो पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु सहित अन्य राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है। सूची में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी का नाम शामिल है। महाराष्ट्र से भाजपा के स्टार प्रचारक केवल गडकरी ही रहेंगे। गौरतलब है कि विविध राज्यों के चुनाव में महाराष्ट्र से भाजपा नेताओं को प्रचार के लिए भेजा जाता रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को बिहार चुनाव में भाजपा ने प्रभारी बनाया था। दिल्ली विधानसभा के चुनाव में भी फडणवीस की सभाएं हुई थीं। लेकिन इस बार उन्हें कोई जिम्मेदारी नहीं मिली है। बताया जा रहा है कि भाजपा ने केंद्रीय स्तर के नेताओं के साथ उन नेताओं को चुनाव प्रचार की प्रमुख जिम्मेदारी दी है, जो संबंधित राज्यों के नेता हैं। भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि स्टार प्रचारकों में भले ही महाराष्ट्र के नेताओं का नाम शामिल नहीं है। लेकिन विधानसभा क्षेत्र स्तर पर संगठन निरीक्षक के तौर पर उन्हें जिम्मेदारी दी जा रही है। 

कांग्रेस ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूचि

कांग्रेस ने भी शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार के लिए अपने स्टार प्रचारकों की सूचि जारी कर दी है। इस सूचि में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित पार्टी के 30 नेताओं का नाम शामिल है। खास बात यह है कि इस सूचि से गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल, आनंद शर्मा, मनीष तिवारी, भूपिंदर सिंह हुड्डा जैसे पार्टी के असंतुष्ट नेताओं का नाम नदारद है। हालांकि आजाद के नेतृत्व वाले जी-23 में शामिल अखिलेश प्रसाद सिंह इस सूचि में जगह पाने में सफल रहे हैं। पश्चिम बंगाल के लिए घोषित पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूचि में सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, मल्लिकार्जुन खड़गे, कैप्टन अमरिंदर सिंह, भूपेश बघेल, कमलनाथ, अधीर रंजन चौधरी, बी के हरिप्रसाद, सलमान खुर्शीद, सचिल पायलट, रणदीप सुरजेवाला, नवजोत सिद्धू, मो अजहरूद्दीन, पवन खेड़ा, जितिन प्रसाद, आरपीएन सिंह, अब्दुल मन्नान, प्रदीप भट्टाचार्य, दीपा दासमुंशी, रामेश्वर उरांव, जयवीर शेरगिल आदि का नाम शामिल है। लेकिन बंगाल में कई अल्पसंख्यक बहुल सीटें होने के बावजूद गुलाम नबी आजाद से प्रचार नहीं कराने का निर्णय कर पार्टी ने यह साफ कर दिया है कि पार्टी आलाकमान के कामकाज पर सवाल खड़े करना उसे गंवारा नहीं है। जानकारी के मुताबिक जितिन प्रसाद बतौर प्रदेश प्रभारी स्टार प्रचारकों की सूचि में शामिल किए गए हैं।

खबरें और भी हैं...