नागपुर मनपा : स्टेशनरी घोटाला - जांच समिति ने मांगी संदिग्धों की सूची

January 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। महानगरपालिका में स्टेशनरी घोटाले की जांच के लिए गठित समिति ने इस मामले से जुड़े संदिग्धों की सूची प्रशासन से मांगी है। गुरुवार को समिति की दूसरी सभा हुई। अगली सभा में सूची पेश करने के निर्देश दिए गए। मनपा में 67 लाख रुपए का स्टेशनरी घोटाला उजागर होने पर सत्तापक्ष नेता अविनाश ठाकरे की अध्यक्षता में नगरसेवकों की पांच सदस्यीय जांच समिति गठित की गई है। 31 दिसंबर की आमसभा में विरोधी पक्ष नेता तानाजी वनवे और नगरसेवक विजय झलके ने स्थगन प्रस्ताव रखा था। सदन में प्रस्ताव पर जोरदार बहस के बाद महापौर ने आयुक्त की प्रशासकीय जांच समिति को नियमबाह्य ठहराते हुए ठाकरे की अध्यक्षता में जांच समिति गठित करने की घोषणा की थी। सदन के निर्णय पर प्रशासन की ओर से डेढ़ सप्ताह बाद मुहर लगाने पर गुरुवार को दूसरी बैठक हुई। बैठक में स्टेशनरी घोटाले में संदिग्ध तथा जिन अधिकारियों पर घोटाले से जुड़े होने के आरोप लगाए गए, उनकी सूची प्रशासन से मांगी गई है। घोटाले में जिन कर्मचारियों ने अधिकारियों के पासवर्ड का इस्तेमाल किया और जिनके पासवार्ड इस्तेमाल किए गए, उनके नाम की सूची पेश करने के प्रशासन को निर्देश दिए गए। प्रशासन से अगली बैठक में सूची तलब किए जाने से घोटाले के संदिग्ध तथा आरोप के कटघरे में खड़े अधिकारी, कर्मचारियों में खलबली मच गई है।