comScore

दूसरे दिन भी स्कूल नहीं पहुंचे विद्यार्थी, बचाव के अधूरे इंतजाम

September 22nd, 2020 15:40 IST
दूसरे दिन भी स्कूल नहीं पहुंचे विद्यार्थी, बचाव के अधूरे इंतजाम

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा । केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की कोरोना संक्रमण से बचाव संबंधी गाइडलाइन के बीच स्कूल खोले जाने के आदेश जारी हुए हैं। दूसरे दिन भी प्रमुख स्कूलोंं में एक भी विद्यार्थी नहीं पहुंचे। वहीं दूसरी ओर स्कूलों में भी जारी गाइड-लाइन के  इंतजाम नहीं देखे गए। यहां पर स्कूलों की ओर से तैयारी नहीं की गई है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि स्कूलों में टाइम-टेबल नहीं बनने के कारण विद्यार्थी नहीं पहुंचे हैं। हालांकि छात्र-छात्राओं के लिए यह स्वैच्छिक रखा गया हैे।
उत्कृष्ट विद्यालय में पूछताछ के बाद प्रवेश 
उत्कृष्ट विद्यालय छिंदवाड़ा में शिक्षकों की उपस्थिति रही। यहां पर विद्यार्थियों का इंतजार होते रहा, लेकिन विद्यार्थी नहीं पहुंचे। शिक्षकों की माने तो दो विद्यार्थी आए थे, लेकिन वह सिर्फ लाइब्रेेरी से पुस्तक लेकर चले गए।
यह दिखे इंतजाम
उत्कृष्ट विद्यालय में कोविड-19 से बचाव के लिए सावधानी बरती जा रही थी। मुख्य गेट में कर्मचारी द्वारा आने वालों का रिकार्ड रखा जा रहा था, साथ ही सेनेटाइज करने के बाद प्रवेश मिल रहा था। स्कूल ग्राउंड में गोल बाक्स बनाए गए थे जो विद्यार्थियों की भीड़ बढऩे पर सोशल डिस्टेंस में खड़े रखने के लिए बनाए गए थे। शिक्षक भी मास्क और सेनेटाइजर के साथ उपस्थित रहे।
एमएलबी स्कूल, नहीं किए इंतजाम
एमएलबी स्कूल में कुछ छात्राएं पुस्तक लेने के लिए पहुंची थी। स्कूल में शिक्षकों की संख्या भी कम थी। स्कूल के प्राचार्य कक्ष में ताला लगा हुआ था और शिक्षक भी कम ही पहुंचे थे। जो शिक्षक शाला में उपस्थित थे वे स्कूल आने वाले अभिभावकों को जानकारी दे रहे थे।
नहीं दिखे इंतजाम
एमएलबी स्कूल में जारी गाइड-लाइन के इंतजाम नहीं दिखे। मुख्य गेट से स्कूल तक प्रवेश करने में कोई बंदिश नहीं है। यदि छात्राओं की संख्या बढ़ जाए तो सोशल डिस्टेसिंग के लिए गोले नहीं बनाए गए थे। सेनेटाइजर की व्यवस्था नहीं थी जो शिक्षक शाला में उपस्थित थे, वह अपनी व्यवस्था से पहुंचे थे। स्कूल परिसर में कुछ छात्राएं थी जो ग्यारहवीं की थी जो पुस्तक लेने आई थी। 
निजी स्कूल नहीं लगाएंगे कक्षाएं: सहोदय 
सीबीएसई स्कूलों की संबंध संस्था सहोदय ने निर्णय लिया है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए वह आंशिक रूप से भी स्कूल नहीं लगाएंगे। जिला अध्यक्ष डॉ. वीएस सिसोदिया ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर आंशिक तौर पर भी स्कूल नहीं लगाए जाएंगे और न ही किसी विद्यार्थी को स्कूल बुलाया जा रहा है। शैक्षणिक स्टॉफ स्कूल आएगा। हम हर रविवार को इस बात की समीक्षा करते हैं, जिसके अनुसार इस माह स्कूल नहीं लगाए जाएंगे।
इनका कहना है 
॥संभवत: प्राचार्यों का टाइम-टेबल बना नहीं है, जिसके आधार पर बच्चों को अभिभावकों की सहमति से स्कूल आना है, जल्द ही इसे तैयार कराया जाएगा। पचास फीसदी शिक्षकों के साथ स्कूल खुलना है, जहां अव्यवस्थाएं इसे मैं स्वयं जाकर देखूंगा, इसमें सुधार किया जाएगा। 
-अरविंद चौरगड़े, जिला शिक्षा अधिकारी
 

कमेंट करें
Tinho