comScore

विद्यार्थी बिना लिखित परीक्षा दिए उत्तीर्ण हुए तो खुश नहीं होंगे- राज्यपाल 

विद्यार्थी बिना लिखित परीक्षा दिए उत्तीर्ण हुए तो खुश नहीं होंगे- राज्यपाल 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी ने कहा कि यदि विद्यार्थी बिना लिखित परीक्षा के उत्तीर्ण होते हैं, तो वे खुश नहीं होंगे। विद्यार्थियों को कभी समाधान नहीं मिलेगा। राज्यपाल ने कहा कि आज के युग में प्रौद्योगिकी का उपयोग करके और जिन विद्यार्थियों के पास कम्प्यूटर नहीं है उन्हें कम्प्यूटर उपलब्ध कराकर परीक्षा लेना संभव है। रविवार को राज्यपाल ने अकादमीस्थान फाउंडेशन की तरफ से ऑनलाइन अध्यापन के लिए नए युग के उपकरण विषय पर आयोजित चर्चासत्र (वेबिनार) का उद्धाटन राजभवन से किया। राज्यपाल कहा कि कोरोना संकट की स्थिति में महाविद्यालय और उच्च शिक्षा संस्थान अध्ययन और अध्यापन के लिए आधुनिक डिजिटल प्रणाली के नए साधनों को अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आईआईटी जैसे संस्थान ने भी ऑनलाइन अध्यापन के विकल्प को स्वीकार किया है।

राज्यपाल ने कहा कि नई तकनीक अपनाते समय यह भी विचार होना चाहिए कि क्या यह तकनीक सामंजस्यपूर्ण और व्यावहारिक है। राज्यपाल ने कहा कि समय के साथ बदलाव होता है लेकिन अध्यापन में कुछ बातें शाश्वत रहती है। उन्होंने कहा कि नई तकनीक का इस्तेमाल करते समय शिक्षा के शाश्वत मूल्यों को बरकरार रखा जाना चाहिए। राज्यपाल ने कहा कि छोटे बच्चों की आंखों के स्वास्थ्य पर विचार करते हुए बच्चों के अध्यापन के ऑनलाइन संसाधन के कितने उपयुक्त हैं। इस पर भी सोचना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार ने राज्य के विश्विद्यालयों के अंतिम वर्ष के अंतिम सेमेस्टर के विद्यार्थियों की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला सरकार ने लिया है। जबकि राज्यपाल चाहते थे कि विद्यार्थियों की परीक्षाएं हो। लेकिन सरकार ने अंतिम फैसला लेते हुए परीक्षाएं रद्द करने की घोषणा की। सरकार ने कहा है कि अगर कोई विद्यार्थी परीक्षा देना चाहता है तो उसके पास परीक्षा देने का विकल्प होगा। इसके बाद अब राज्यपाल का परीक्षा संबंधी यह बयान काफी अहम माना जा रहा है। 

कमेंट करें
8zh9a