दैनिक भास्कर हिंदी: तेलतुंबडे ने जमानत आवेदन में किया दावा - एनआईए के आरोप हैं आधारहीन 

January 15th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भीमा-कोरोगांव एल्गार परिषद मामले में आरोपी आनंद तेलतुंबडे ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कि विशेष अदालत में जमानत के लिए आवेदन दायर किया है। जमानत आवेदन में तेलतुंबडे कहा है कि इस मामले में एनआईए की ओर से उन पर लगाए गए आरोप आधारहीन है। एनआईए ने तेलतुंबड़े पर लोगों को देश में युद्ध छेड़ने के लिए भड़काने व आपराधिक षडयंत्र का आरोप है।

जमानत आवेदन में तेलतुंबड़े ने कहा कि उन्होंने कई दशकों तक सार्वजनिक उपक्रम भारत पेट्रोलियम कार्पेरेशन में बड़े पद पर काम किया है। कार्पोरेशन में मैने कार्यकारी निदेशक के रुप में 6 साल तक अपनी सेवा दी है। आवेदन में उन्होंने कहा कि कुछ लोग मेरी तरक्की को पचा नहीं पा रहे हैं। जिसके चलते मुझे इस मामले में गलत तरीके से फंसाया गया है।

आवेदन में कहा गया है कि एनआईए ने ऐसा कोई सबूत नहीं पेश कर पायी है जो दर्शाए कि मैं (तेलतुंबडे) प्रतिबंधित कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (माओवादी) के सदस्य था। मैं इस पार्टी की विचारधारा का आलोचक रहा हूं। मेरे खिलाफ एनआईए के पास कोई ठोस सबूत नहीं है। इसलिए सारे आरोप पाखंड प्रतीत होते हैं। यह बात मामले को लेकर दायर किए गए आरोपपत्र से भी स्पष्ट होता है। जमानत आवेदन पर जल्द ही सुनवाई हो सकती है। 

खबरें और भी हैं...